ताजा सामाचार

आप यहाँ है :

 

  • तीन राज्यों के एनएसएस अधिकारियों को डॉ.चन्द्रकुमार जैन ने दिया प्रभावी प्रशिक्षण

    राजनांदगांव। संस्कारधानी के प्रखर वक्ता और शासकीय दिग्विजय अग्रणी महाविद्यालय के हिन्दी विभाग के राष्ट्रपति सम्मानित प्रोफ़ेसर डॉ.चन्द्रकुमार जैन, ने उच्च शिक्षा से जुड़े तीन राज्यों के राष्ट्रीय सेवा योजना अधिकारियों के प्रशिक्षण कार्यक्रम में प्रभावी व्याख्यान दिया। युवा कार्यक्रम एवं खेल मंत्रालय, भारत सरकार, राष्ट्रीय सेवा योजना क्षेत्रीय केंद्र भोपाल,राजीव गांधी राष्ट्रीय युवा विकास […]

  • बुढ़ौती में तीरथ

    कहते हैं कि अंग्रेजों ने जब रेलवे लाइनें बिछा कर उस पर ट्रेनें चलाई तो देश के लोग उसमें चढ़ने से यह सोच कर डरते थे कि मशीनी चीज का क्या भरोसा, कुछ दूर चले और  भहरा कर गिर पड़े। मेरे गांव में एेसे कई बुजुर्ग थे जिनके बारे में कहा जाता था कि उन्होंने […]

  • विदेश मंत्रालय के कांसुलर, पारपत्र एवं वीज़ा प्रभाग द्वारा राजभाषा सम्बन्धी प्रावधानों के निरन्तर उल्लंघन की शिकायत

    सेवा में, श्रीमती सुषमा स्वराज माननीय विदेश मंत्री, भारत सरकार नई दिल्ली   विषय: विदेश मंत्रालय के कांसुलर, पारपत्र एवं वीज़ा प्रभाग द्वारा राजभाषा सम्बन्धी प्रावधानों के निरन्तर उल्लंघन की शिकायत    महोदया, इस सम्बन्ध में कई लोग पिछले चार साल से लगातार लिख रहे हैं, सूचना के अधिकार कानून के तहत पूछ रहे हैं […]

  • मोबाईल पर इंटरनेट लेने पर और जेब काटनेकी तैयारी

    जल्द ही आपको वॉट्सएप, फेसबुक, जीमेल या ऑनलाइन शॉपिंग साइट्स के लिए अलग से नेट प्लान लेना पड़ सकता है। टेलीकॉम कंपनियों ने नेट न्यूट्रेलिटी का हवाला देते हुए ऐसी ही मांग की है। दूरसंचार नियामक प्राधिकरण यानी ट्राई ने कंपनियों से 24 अप्रैल और आम लोगों से 8 मई तक सुझाव मांगे हैं। इसके […]

  • महावीर जयन्तीः जरूरत है महावीर के अहिंसा दर्शन

    महावीर अब हमारे बीच नहीं है पर महावीर की वाणी हमारे पास सुरक्षित है। महावीर की मुक्ति हो गई है पर उनके विचारों की कभी मुक्ति नहीं हो सकती। आज कठिनाई यह हो रही है कि महावीर का भक्त उनकी पूजा करना चाहता है पर उनके विचारों का अनुगमन करना नहीं चाहता। उन विचारों के […]

  • आज जरूरत है महावीर की समाज-व्यवस्था

    भगवान महावीर सदियों पहले जन्में, वे जैन धर्म के मौलिक इतिहास की परम्परा में अंतिम तीर्थंकर हैं। तीर्थंकर प्रभु महावीर के अनेक नाम हैं। उन्हें सन्मति, महत्ति वीर, महावीर, वर्द्धमान, प्रभृति अनेक नामों से सम्बोधित किया गया है। भगवान महावीर के नामकरण संस्कार के समय राजा सिद्धार्थ द्वारा ‘वर्द्धमान’ नाम रखा गया था। कल्पसूत्र में […]

  • टीवी पर आने वाले सब गँवार होते जा रहे हैं

    कोई भी टीवी चैनल लगाकर देखिये।आजकल "तू तड़ाक" से बोलने वाला समझता है कि उसने शायद बाज़ी मार ली। मगर वह यह नहीं जानता कि दर्शक उसकी बेहयाई पर मन ही मन हंस रहे होते हैं।प्रायः हर चैनल पर आजकल ऐसा ही हो रहा है। कोई किसी को बोलने ही नहीं देता । एंकर के […]

  • भगवान महावीर पर डॉ.चन्द्रकुमार जैन की प्रेरक वार्ता का प्रसारण दो अप्रैल को

    ———————————————– राजनांदगांव। प्रखर वक्ता, साहित्यकार और शासकीय दिग्विजय महाविद्यालय के राष्ट्रपति सम्मानित प्राध्यापक डॉ.चन्द्रकुमार जैन की वार्ता का प्रसारण दो अप्रैल को दोपहर 12 बजे होगा। 'अहिंसा और अनेकांत के प्रखर दृष्टा – भगवान महावीर' विषय पर एकाग्र इस वार्ता में डॉ.जैन ने विश्व शान्ति के परिप्रेक्ष्य में महावीर स्वामी के दर्शन की प्रासंगिकता और […]

  • केजरीवाल के आदेश पर दिल्ली सचिवालय के बाहर मज़दूरों पर बर्बर लाठी चार्ज

    ​25 मार्च को दिल्ली में मज़दूरों पर जो लाठी चार्ज हुआ वह दिल्ली में पिछले दो दशक में विरोध प्रदर्शनों पर पुलिस के हमले की शायद सबसे बर्बर घटनाओं में से एक था। ध्यान देने की बात यह है कि इस लाठी चार्ज का आदेश सीधे अरविंद केजरीवाल की ओर से आया था, जैसा कि […]

  • म.प्र. के मालवा के मूल निवासी थे पं. मालवीय

    मरणोपरांत भारत रत्न पाने वाले मदन मोहन मालवीय के परिवार की जड़ें मध्‍यप्रदेश के मालवा से जुड़ी हैं। उनके परदादा प्रेमधर मालवीय मालवा की मिट्टी में ही पले और बढ़े। 1819 में मुस्लिमों के शासनकाल में श्री गौड़ ब्राम्हण परिवार के साथ शासक अन्याय करने लगे थे। इससे तंग आकर प्रेमधर यूपी में बस गए, […]

Back to Top