आप यहाँ है :

 

  • डॉ.चंद्रकुमार जैन ने मर्मस्पर्शी कहानी झलमला को दिया स्वर

    राजनांदगाँव। हिंदी साहित्य संसार में, छत्तीसगढ़ को अविस्मरणीय राष्ट्रीय ख्याति प्रदान करने वाले साहित्य वाचस्पति पदुमलाल पुन्नालाल बख्शी जी की जयन्ती के अवसर पर शासकीय दिग्विजय महाविद्यालय के हिंदी विभाग के प्राध्यापक डॉ. चंद्रकुमार जैन का सरस पॉडकास्ट जारी किया गया।

  • कश्मीर की एक क्रांतिकारी जोगन थी ललद्दद

    कश्मीर की एक क्रांतिकारी जोगन थी ललद्दद

    मेरा उपन्यास *ललद्यद* कश्मीरी भाषा की आदि-कवयित्री ललद्यद के जीवन संघर्षों पर आधारित है।वह एक जुनूनी जोगन थी । इसी संसार में रहकर वह वहां पहुंची जहां संसार नहीं पहुंचता, जहां सारे धर्म और विश्वास पीछे छूट जाते हैं ।

  • जैन हिन्दू संस्कृति का अभिन्न अंग: गणि राजेन्द्र विजय

    जैन हिन्दू संस्कृति का अभिन्न अंग: गणि राजेन्द्र विजय

    सुखी परिवार अभियान के प्रणेता, प्रख्यात जैन संत गणि राजेन्द्र विजय ने कहा कि जैन धार्मिक अल्पसंख्यक हंै। लेकिन वे हिन्दू संस्कृति का अभिन्न अंग हैं। शिक्षा, सेवा एवं जनकल्याण के कार्यों में सक्रियता से संलग्न इस समाज को सरकारी स्तर पर जिस तरह का प्रोत्साहन एवं प्राथमिकता मिलनी चाहिए, न मिलने के कारण ही जैन समाज अल्पसंख्यक का दर्जा पाने के लिए प्रयासरत रहा है और उसे सफलता मिली है।

  • माला में 108 दानों का रहस्य

    माला में 108 दानों का रहस्य

    क्या आपने कभी ग़ौर किया है कि जाप की सभी मालाओं में 108 दाने ही क्यों होते हैं? संख्या 108 ही क्यों है, 107 या 109 क्यों नहीं? आख़िर हिंदू धर्म में 108 का इतना ज़्यादा महत्व क्यों है?

  • संभल : जहाँ एक मस्जिद आज भी हरिहर मंदिर कहलाती है

    संभल : जहाँ एक मस्जिद आज भी हरिहर मंदिर कहलाती है

    मेरा जन्म इसी हरिहर मंदिर के ठीक सामने ही हुआ था, कहते हैं कि इसी मंदिर के ऊपर बाबर ने मस्जिद बनाई थी

  • संस्कृत बोलिए, डायबिटीज़ को भगाईये

    संस्कृत बोलिए, डायबिटीज़ को भगाईये

    डायबिटीज आज के जमाने की भयंकर बीमारी है। इस बीमारी से पीड़ित शख्स को जीवन भर इंसूलिन का टीका लगाना पड़ता है। डायबिटीज के इलाज के लिए डॉक्टर अलग अलग तरह की दवाई बताते हैं, साथ ही रोजाना एक्सरसाइज की भी सलाह देते हैं।

  • ज़िन्दगी को यूं तंबाकू में न गंवाओं यारों

    ज़िन्दगी को यूं तंबाकू में न गंवाओं यारों

    तंबाकू नशा है और इसे इस्तेमाल करने वाले - नशेङी ! संभव है यह संबोधन तंबाकू खाने वालों को बुरा लगे, लेकिन समय का सच यही है और विश्व तंबाकू निषेध दिवस की चेतावनी भी। भारत में जितनी भी चीजें नशे के रूप में इस्तेमाल की जाती हैं, मात्रा के पैमाने पर इनमें तंबाकू का नंबर सबसे आगे है।

  • EVM मशीनों की विश्वसनीयता और सुदृढ़ हुई है

    EVM मशीनों की विश्वसनीयता और सुदृढ़ हुई है

    भारतीय मतदाताओं के साथ साथ चुनाव आयोग भी दिल्ली के मुख्यमंत्री व आआपा पार्टी के आभारी हो सकते है. उन्होंने एक काम अनायास ही ऐसा कर दिया जिससे वोटिंग मशीन की विश्वसनीयता स्थापित हुई है.

  • मोदीजी विपक्ष में थे तो जीएम फुड ज़हर था, अब अमृत हो गया

    मोदीजी विपक्ष में थे तो जीएम फुड ज़हर था, अब अमृत हो गया

    प्रधानमंत्री को लिखी गई चिट्ठी की एक प्रति फ़र्स्टपोस्ट को हासिल हुई है. इस चिट्ठी में स्वदेशी जागरण मंच के संयोजक डा अश्विनी महाजन ने कहा है कि जेनेटिक इंजीनियरिंग एप्राइजल कमिटी (जीईएसी) की जीन प्रवर्धित सरसों को स्वदेशी जीएम सरसों बताने की सिफारिश दरअसल आंकड़े की बाजीगरी पर आधारित है

  • वियतनाम: चाम हिंदुओं का घर

    वियतनाम: चाम हिंदुओं का घर

    वियतनाम में चाम समुदाय हिन्दू परंपरा और संस्कृति से प्रभावित है। वहां हिन्दुओं की अच्छी-खासी संख्या है। लेकिन कन्वर्ट होकर मुस्लिम बने लोगों के मुकाबले हिन्दुओं की स्थिति दयनीय है

Back to Top