A PHP Error was encountered

Severity: Notice

Message: Only variable references should be returned by reference

Filename: core/Common.php

Line Number: 257

Hindi Media
header-logo

व्यवहार कुशलता से दक्षता में लग जाते हैं चार चाँद

व्यावहारिक कौशल अक्सर एक व्यक्ति के अन्य लोगों के साथ संबंधों के तौर तरीके, व्यक्तित्व लक्षण, सामाजिक गौरव, संचार, भाषा, व्यक्तिगत आदतों, मित्रता और आशावाद के साथ जुड़ा शब्द है। साफ्ट स्किल एक नौकरी और कई अन्य गतिविधियों की व्यावसायिक जरूरत को पूरा करती हैं। 

readmore
READMORE

स्किल 'डेवलपमेन्ट' में बेहतर 'प्लेसमेंट' को समझें

बढ़ रही युवा जनसंख्या को रोजगार के अच्छे अवसर प्रदान करने के लिए उन्नत प्रशिक्षण एवं कौशल विकास महत्वपूर्ण है और उन्नति की गति को तीव्र बनाए रखने के लिए यह आवश्यक भी है। राष्ट्रीय कौशल विकास नीति का लक्ष्य, सभी व्यक्तियों को अच्छे रोजगार सुलभ कराने तथा विश्व बाजार में भारत की प्रतिस्पर्धा सुनिश्चित करने के लिए उन्हें उन्नत कौशल, ज्ञान तथा योग्यताओं के माध्यम से सक्षम बनाना है।

readmore
READMORE

इंजीनियरिंग छात्रों के लिए खुश खबरी

इंजीनियरिंग परीक्षा की तैयारी करने वाले छात्र-छात्राओं के लिए खुशखबरी है। अंग्रेजी अखबार टाइम्स ऑफ  इंडिया ने खबर दी है कि   अगले साल यानी 2016 से उन्हें आईआईटी के अलावा किसी दूसरे इंस्टीट्यूट में प्रवेश के लिए 12वीं परीक्षा के अंकों  की जरूरत नहीं पड़ेगी।

readmore
READMORE

प्रबंधन में सँवारें भविष्य के ऊँचे सपने

आपने उस छोटी चिड़िया की कहानी तो सुनी ही होगी, जो खुद को बदसूरत मानते-मानते इस कदर आत्मविश्वासहीन हो गयी कि अपनी बोली भी भूल गयी। एक दिन अचानक उसने साफ जल में खुद को देखा, तो महसूस किया कि वह अब छोटी चिड़िया नहीं, बल्कि एक खूबसूरत हंस हो चुकी है। 

readmore
READMORE

तरुणाई को सही और सटीक दिशा की ज़रुरत

किशोरावस्था तीव्र शारीरिक भावनात्मक और व्यवहार सम्बन्धी परिवर्तनों का काल है। यह परिवर्तन शरीर में उत्पन्न होने वाले कुछ हारमोंस के कारण आते हैं जिनके परिणाम स्वरुप कुछ एक ग्रंथियां एकाएक सक्रिय हो जाती है। ये सब परिवर्तन यौन विकास के साथ सीधे जुड़े हुए हैं क्योंकि इस अवधि में गौण यौन लक्षणों के साथ-साथ बहुत महत्वपूर्ण शारीरिक परिवर्तन होते हैं। 

readmore
READMORE

उच्च शिक्षा में क्षमता और दक्षता की बढ़ती महत्ता

हाल ही में हमारे यहां उच्च शिक्षा के क्षेत्र में प्राध्यापकों के कार्यों की परफॉरमेंस आधारित मूल्यांकन पद्धति एक स्वागतेय कदम है,क्योंकि हर जिम्मेदार अधिकारी या कर्मचारी की क्षमता व दक्षता की झलक उसके कार्य और कार्यशैली का आइना कहा जा सकता है।

readmore
READMORE

उच्च शिक्षा में क्षमता और दक्षता की बढ़ती महत्ता

हाल ही में हमारे यहां उच्च शिक्षा के क्षेत्र में प्राध्यापकों के कार्यों की परफॉरमेंस आधारित मूल्यांकन पद्धति एक स्वागतेय कदम है,क्योंकि हर जिम्मेदार अधिकारी या कर्मचारी की क्षमता व दक्षता की झलक उसके कार्य और कार्यशैली का आइना कहा जा सकता है।

readmore
READMORE

बारहवीं के बाद भविष्य की राह

बारहवीं और दसवीं की परीक्षाओं केबाद छात्रों की नजर परीक्षा परिणामों पर टिकी रहती है। लीजिये अपने याहा तो नतीजे भी घोषित हो गए हैं। इसी के साथ उनमें आगे की पढ़ाई के लिए उपयुक्त कोर्स या स्ट्रीम के चयन को लेकर चिंतन और अक्सर चिंता का दौर भी शुरू हो जाता है।

readmore
READMORE

रचनात्मक कला और प्रतिष्ठित व्यवसाय : जन संपर्क

जन संपर्क एक कला तो है ही, आज एक महत्वपूर्ण व्यवसाय और भारत जैसे विशाल लोकतंत्र की तो बड़ी ज़रुरत भी बन गया है। उत्पादों व संस्थाओं को बाजार में उतारने व कायम रहने की चुनौतियों ने जनसंपर्क की उपयोगिता बढ़ा दी । 

readmore
READMORE

बायोमास गैसिफिकेशन में 2025 तक लाख 9 लाख जॉब्स !

प्रसिद्ध पर्यावरणविद् सुंदरलाल बहुगुणा मानते हैं कि अगर दुनिया को बचाना है तो हिमालय को पूरी तरह पेड़ों से ढकना होगा।पर्यावरण के खतरों पर विश्व में चिंता तो बढ़ी है और कुछ पहल भी शुरू हुई है, लेकिन भारत की स्थिति इन देशों से अलग है।

readmore
READMORE

हरियाली की राहों में भविष्य की खुशहाली

प्रसिद्ध पर्यावरणविद् सुंदरलाल बहुगुणा मानते हैं कि अगर दुनिया को बचाना है तो हिमालय को पूरी तरह पेड़ों से ढकना होगा।पर्यावरण के खतरों पर विश्व में चिंता तो बढ़ी है और कुछ पहल भी शुरू हुई है, लेकिन भारत की स्थिति इन देशों से अलग है। 

readmore
READMORE

दिग्विजय कालेज में प्रतियोगी परीक्षाओं और रोजगार के अवसरों पर विशेषज्ञों ने दिया प्रभावशाली मार्गदर्शन

"युवा वर्ग में रोजगार मार्गदर्शन की ललक और जरूरत निरंतर बढ़ती जा रही है। सही समय और जीवन के सही मोड़ पर उन्हें कॅरियर की सही दिशा मिल जाने से उनकी शक्ति, क्षमता और संभावना को बल मिलता है।

readmore
READMORE
author