A PHP Error was encountered

Severity: Notice

Message: Only variable references should be returned by reference

Filename: core/Common.php

Line Number: 257

Hindi Media
header-logo

महान लेखक मुंशी प्रेमचंद पर निबंध प्रतियोगिता

हिंदी साहित्‍य के महान कथाकार, उपन्‍यास सम्राट और पिछड़े, दलित, शोषित, वंचित और खासतौर पर किसानों के संघर्ष को अपनी रचनाओं में जगह देने वाले लेखक मुंशी प्रेमचंद की जयंती पर देश भर में निबंध प्रतियोगिता का आयोजन किया गया है।

readmore
READMORE

भाषा की भी है एक राजनीति

अब जबकि भोपाल में विश्व हिंदी सम्मेलन सितंबर महीने में होने जा रहा तो एक बार यह विचार जरूर होना चाहिए कि आखिर हिंदी के विकास की समस्याएं क्या हैं? वे कौन से लोग और तत्व हैं जो हिंदी की विकास बाधा हैं? सही मायनों में हिंदी के मान-अपमान का संकट राजनीतिक ज्यादा है।

readmore
READMORE

हिंदी में पढ़ पाएँगे सर्वोच्च न्यायालय के निर्णय

कानून एवं न्याय मंत्रालय की हिंदी सलाहकार समिति की बैठक मंगलवार को शहर के निजी होटल में हुई। इसकी अध्यक्षता कानून मंत्री सदानंद गौड़ा ने की। इस दौरान कई महत्वपूर्ण निर्णय किए गए। बैठक में सामने आया कि मंत्रालय की विशेष पत्रिका में सुप्रीम कोर्ट के आदेशों को हिंदी में रूपातंरित कर प्रकाशित किया जाता है। हाईकोर्ट आदेशों की जानकारी के लिए भी दो पत्रिकाएं प्रकाशित की जाती हैं।

readmore
READMORE

मोदीजी के राज में साजिश की शिकार हो रही है हिन्दी , मोदीजी की चुप्पी ख़तरनाक!

कृपया ध्यान दें कि केन्द्रीय सूचना आयोग के द्वारा राजभाषा सम्बन्धी प्रावधानों के निरंतर और जानबूझ कर किए जा रहे उल्लंघन के सम्बन्ध में पिछले तीन वर्षों में यह मेरा 15वां ईमेल/अनुस्मारक है.

readmore
READMORE

मेरे भारत देश को ‘इंडिया’ क्यों कहा जा रहा है ?

मैं समझ नहीं पाती कि आजादी के इतने बरस बाद भी आखिर क्यों  हम  गुलामी के प्रतीक ‘इंडिया’  शब्द को अपने देश का नाम बनाए हुए हैं और ‘भारत’ जो कि वास्तविक नाम है उसे    बिसराने में लगे हैं।  

readmore
READMORE

हिन्दी समय में इस बार

चौथीराम यादव हिंदी के एक विरल अध्येता हैं। वे कम लिखते हैं पर जब भी लिखते हैं उसकी गूँज दूर और देर तक सुनी जाती है। इस बार हिंदी समय पर प्रस्तुत उनका आलेख अवतारवाद का समाजशास्त्र और लोकधर्म ऐसी ही एक विचारोत्तेजक रचना है।

readmore
READMORE

पायलट अच्छी हिन्दी बोलेंगे तो ईनाम मिलेगा

सरकारी विमानन कंपनी एयर इंडिया अपने पायलटों को हिंदी बोलने के लिए प्रेरित कर रही है। कंपनी ने पायलटों से कहा है कि उड़ान के दौरान अच्छी हिंदी में घोषणा करने पर उन्हें ईनाम दिया जाएगा।

readmore
READMORE

हिन्दी को बुधुआ की लुगाई न बनने दें

न जाने क्यों लगने लगा है कि हिन्दी इस देश में बुधुआ की लुगाई है, और इस नाते वह सबकी भौजाई है। जो चाहे, आए और हिन्दी से भद्दे से भद्दा मजाक कर जाए। फागुन का महीना आने से पहले ही अंग्रेजी भाषा के चर्चित लेखक चेतन भगत ने पिछले दिनों एक अख़बार में कुछ ऐसा ही मजाक करने की गुस्ताखी दिखाई।

readmore
READMORE

जूती पहने हैं, पगड़ी की तरह

मराठी के प्रसिद्ध लेखक भालचंद्र निमाड़े की एक भेंट-वार्ता आज टाइम्स ऑफ इंडिया में छपी है। क्यों छपी है? क्योंकि उन्हें ज्ञानपीठ पुरस्कार मिला है। ज्ञानपीठ और टाइम्स ऑफ इंडिया के मालिक एक ही हैं, वरना ऐसी भेंट-वार्ता किसी अंग्रेजी अखबार में छपना असंभव-सा ही है।

readmore
READMORE

हिन्दी को लेकर चेतन भगत का दिमागी दिवालियापन?

हाल ही में, मैंने नवभारत टाइम्स की वेबसाइट पर प्रसिद्ध अंग्रेजी उपन्यासकार श्री चेतन भगत का लेख ‘रोमन अपनाओ, हिंदी बचाओ’ पढ़ा। इस लेख में उन्होंने सुझाव दिया है कि यदि हिन्दी को 'बचाना' है, तो हमें हिन्दी भाषा के लिए देवनागरी लिपि को छोड़कर रोमन लिपि अपना लेनी चाहिए। 

readmore
READMORE

कर्नाटक विधान सभा में गूँजी हिन्दी

कर्नाटक के राज्यपाल वजुभाई आर. वाला ने सोमवार को एक नहीं दो-दो इतिहास रचे। कर्नाटक विधानसभा के जॉइंट सेशन को राज्यपाल वाला ने हिंदी में संबोधित किया।

readmore
READMORE

विदेशी धरती पर हिन्दी के राजदूत

विश्व में भारत की पहचान हिंदी से है । दुनिया के अनेक विश्वविद्यालयों में हिंदी का अध्ययन–अध्यापन होता है ।   विदेशों में अनेक लोग ऐसे हैं जो ’हिंदी के विश्वदूत’ बनकर हिंदी और हिन्दुस्तान का परचम फहरा रहे हैं। 

readmore
READMORE
author