A PHP Error was encountered

Severity: Notice

Message: Only variable references should be returned by reference

Filename: core/Common.php

Line Number: 257

Hindi Media
header-logo

स्वतंत्र भारत में खबरों की आजादी

आजादी के बाद से खबरचियों यानी मीडिया के क्षेत्र में भी आमूलचूल परिवर्तन आया है। पहले मीडिया से जुड़े लोग फिल्म निदेशकों की तरह हमेशा पर्दे के पीछे ही बने रहते थे। लेकिन समय के साथ  इतना बदलाव आया है कि अब इस क्षेत्र के दिग्गज बिल्कुल किसी सेलीब्रिटी की तरह परिदृश्य के साथ  पर्दे पर भी छाये रहते हैं।

readmore
READMORE

आजादी के बाद इस देश में सिर्फक्रिकेट का ' विकास' हुआ है ...!!

 नो डाउट अबाउट दिस ... की तर्ज पर दावे के साथ कह सकता हूं कि अपना देश विडंबनाओं से घिरा है। हम भारतवंशी एक ओर तो विकास - विकास का राग अलाप कर राजनेता से लेकर अफसरशाही तक की नींद हराम करते हैं लेकिन जब सचमुच किसी क्षेत्र का विकास होने लगता है तो इसमें  हम मीन-मेख निकालने से भी नहीं चूकते। 

readmore
READMORE

व्यापक... व्यापमं....!!

पहली बार जब यह शब्द सुना तो न मुझे इसका मतलब समझ में  आया और न मैने इसकी कोई  जरूरत ही समझी। लेकिन मुझे यह अंदाजा बखूबी लग गया कि इसका ताल्लुक जरूर किसी व्यापक दायरे वाली चीज से होगा। 

readmore
READMORE

एक कुत्ते की डायरी

शुनिचैव श्‍वापाके च पंडित: समदर्शिन:। (गीता)

readmore
READMORE

'सेवा ' में करियर...!!

साइकिल - घड़ी और रेडियो। यदि एेसी चीजें सात फेरे लेने जा रहे दुल्हे की खिदमत में पेश की जाती थी, तो आप सोच सकते हैं कि वह जमाना कितना वैकवर्ड रहा होगा। 

readmore
READMORE

बुढ़ौती में तीरथ

कहते हैं कि अंग्रेजों ने जब रेलवे लाइनें बिछा कर उस पर ट्रेनें चलाई तो देश के लोग उसमें चढ़ने से यह सोच कर डरते थे कि मशीनी चीज का क्या भरोसा, कुछ दूर चले और  भहरा कर गिर पड़े। मेरे गांव में एेसे कई बुजुर्ग थे जिनके बारे में कहा जाता था कि उन्होंने जीवन में कभी ट्रेन में पैर नहीं रखा। नाती - पोते उन्हें यह कर चिढ़ाते थे कि फलां के यहां शादी पड़ी है। 

readmore
READMORE

​मौत पर भारी मैच ...!!​

क्रिकेट का एक मैच यानी हजारों सहूलियत का कैच। बाजार के लिए यह खेल बिल्कुल गाय की तरह है। जो हमेशा देती ही देती है। नाम - दाम और पैसा बस इसी खेल में है। दूसरे खेलों के महारथी जीवन - भर सुख - सुविधाओं का रोना रोते हैं, जबकि यही सुख - सुविधाएं  मानो क्रिकेट खिलाड़ियों के चरण में लोटने को तरसती रहती है।

readmore
READMORE

कुछ ऐसी रेलगाड़ियाँ भी चलेगी सेलीब्रिटीज़ के नाम पर!

 देश के रेल मंत्री श्री सुरेश प्रभु द्वारा ब्रांड्स के नाम पर ट्रेन दौड़ाने की घोषणा के साथ सेलिब्रिटीज के नाम ट्रेनों का सोसल मीडिया पर ट्रेंड चल गया है।

readmore
READMORE

एक होता है लोकायुक्त, मगर क्यों होता है ?

सरकारी नेता अक्सर किसी ऐसे शब्द की तलाश में रहते हैं जो लोगों को छल सके, भरमा सके और वक्त को टाल देने में मददगार हो। आजकल मध्य प्रदेश में एक शब्द हवा में है - लोकायुक्त। 

readmore
READMORE

कामचोर, लुटेरे, बेईमान और समाजसेवी राजकुमार को मिला सिंहासन

एक था राजा। राजा के चार लड़के थे। रानियाँ? रानियाँ तो अनेक थीं, महल में एक'पिंजरापोल' ही खुला था। पर बड़ी रानी ने बाकी रानियों के पुत्रों को जहर देकर मार डाला था। और इस बात से राजा साहब बहुत प्रसन्न हुए थे। 

readmore
READMORE

गलती हो गई अब पाकिस्तान कभी नहीं बनाएंगे

ईरान में कौन रहता है?''

     ''ईरान में ईरानी कौम रहती है।''

     ''इंग्लिस्तान (इंग्लैंड) में कौन रहता है?''

readmore
READMORE

सरकार को मुनाफाखोरों को टांगने के लिए खंभे चाहिए

एक दिन राजा ने खीझकर घोषणा कर दी कि मुनाफाखोरों को बिजली के खम्भे से लटका दिया जाएेगा।
सुबह होते ही लोग बिजली के खम्भों के पास जमा हो गये। उन्होंने खम्भों की पूजा की,आरती उतारी और उन्हें तिलक किया।

readmore
READMORE
author