A PHP Error was encountered

Severity: Notice

Message: Only variable references should be returned by reference

Filename: core/Common.php

Line Number: 257

Hindi Media - टर्मिनेटर जेनेसिस
header-logo

टर्मिनेटर जेनेसिस

टर्मिनेटर जेनेसिस

दो टूक: दुनिया को तबाह करने और उसे बचाने के लिए दूसरी दुनिया से आने वाले अनजान एलियंस की कहानियों में १९८४ में आई निर्देशक जेम्स कैमरॉन की फिल्म टर्मिनेटर एक मील का पत्थर साबित हुई है। इसी श्रृंखला में टर्मिनेटर जेनेसिस एक नया अध्याय है।  अर्नाल्ड श्वार्ज नेगर, एमिलिया क्लार्क, जेसन क्लार्क, मैट स्मिथ और  जे के सिमंस के अभिनय वाली  निर्देशक एलेन टेलर  की ये कड़ी हमें पुरानी कड़ियों से मिलाते हुए एक नयी दुनिया की सैर पर
ले जाती है। 

कहानी : फिल्म की कहानी की शुरुआत जॉन कोन्नोर (जेसन क्लार्क) से होती है। जहां वो अपनी खास टीम के में शामिल काईली रीस (जे कोर्टनी) को टाइम मशीन के जरिए 1984 के दौर में भेजकर सारा कोन्नोर (एमिलिया क्लार्क) की जान बचाने के मिशन पर भेजता है। लेकिन काईली जब सारा को बचाने पहुंचता है तो सब कुछ बदल चुका होता है। यहीं एक मुठबेड़ के  दौरान काईली की मुलाकात खुद को बचाने वाले गार्डियन (अर्नाल्ड स्वार्जनेगर) से होती है। गार्डियन की टाइम मशीन में बैठकर सारा, काईली और गार्डियन दो साल बाद के दौर में पहुंचकर एक ऐसे खास ऑपरेटिंग सिस्टम जेनेसिस को खत्म करने के मिशन में जुट जाते हैं जो एक दिन दुनिया को तबाह करने की तैयारी में बनाया जा रहा है। 

अभिनय और निर्देशन:जिन लोगों ने टर्मिनेटर की पहली कड़ियाँ देखी हैं वो जानते हैं कि टर्मिनेटर की असली जान और उसका आधार अर्नाल्ड हैं।उनकी रोबोटिक मुस्कराहट और अपने पात्र के शारीरिक व्याकरण को वो भली भांति जानते हैं और सभी कड़ियों में अब साठ की उम्र को पार कर चुके अर्नाल्ड तारो ताजा लगते हैं।  उनका संवाद आइ विल बी बैक उनके पात्र का स्थापन वैसे ही करता है जैसे पुरानी कड़ियों में। ये अलग बात है कि विज्ञान फतांसियों में अभिनय कम और विशेष प्रभावों का ज्यादा कमाल होता है। एमीलिया क्लार्क कुछ सहज नहीं लगी। जॉन कार्नर बने जेसन क्लार्क निराश  नहीं करते।  जय कर्टनी रीज की भूमिका में शानदार लगते हैं हालांंकि उनका पात्र कुछ कुछ रोमो कॉम किस्म का है। अब बात निर्देशन की, तो निर्देशक एलेन टेलर ने कमाल का काम किया है।  वो फिल्म के कथानक और शिल्प के साथ फिल्म की गति, कैमरा वर्क और विशेष प्रभावों के साथ अपने पात्रों का मिलान ऐसे करते हैं कि एक्शन और विध्वंस के दृश्य भी वास्तविक लगते। फिर थ्री डी में इस फिल्म को देखना और भी सुखद अनुभव है।  वैसे भी ये इस श्रृंखला की अंतिम कड़ी है तो एक बार जरूर देख लें। 

कलकार: अर्नाल्ड श्वार्ज़ नेगर, एमिलिया क्लार्क, जेसन क्लार्क, मैट स्मिथ और  जे के सिमंस के अभिनय वाली 
निर्देशक: एलेन टेलर

author