ताजा सामाचार

आप यहाँ है :

भारतीय चाय पिलाकर अमरीकी महिला ने कमाए 200 करोड़

हमारे यहां लोगों को चाय पीना खूब भाता है, कुछ लोगों की आदत ऐसी होती है कि बिना चाय के वह एक कदम चल भी नहीं सकते. आप भले ही समझते होंगी कि कोई पांच-दस रुपये की चाय से पेट पाल सकता है, मगर लखपति-करोड़पति नहीं बन सकता. मगर हमारे देश में आज भी ऐसे कई लोग हैं जो चाय बेचकर न सिर्फ लाखपति हुए हैं, बल्कि सुख-सुविधा की जिंदगी जी रहे हैं. देसी व्यक्ति कोई चाय बेचकर लाखपति हो जाए तो उसमें हैरानी नहीं होती, मगर हैरानी तो आपको तब होगी जब आपको पता चलेगा कि कोई विदेशी सिर्फ चाय बेचकर ही करोड़पति बन गया. दरअसल, अमेरिका की एक महिला चाय बेचकर ही करोड़पति बन गई है. पिछले दो-तीन दिनों से ब्रुक एडी अमरीकी मीडिया में अपनी भारतीय भक्ति चाय ब्रांड की इस सफलता से छाई हुई है और सभी प्रमुख अमरीकी अखबारों ने उनकी सफलता पर विस्तार से रिपोर्ट प्रकाशित की है।

अमेरिका की ब्रूक एडी आज चाय बेचकर 200 करोड़ की मालकिन हो गई हैं. हैरान करने वाली बात है कि उन्हें चाय बेचने का यह आईडिया भारत से ही मिला. 2002 में एडी भारत आई थीं. 2006 में भारत की यात्रा से वापस लौटने के बाद ब्रूक एडी कई कैफे में गईं और चाय पीं, मगर उन्हें वैसा स्वाद नहीं मिला, जैसा उन्हें भारत में मिला था. वहां वह भारत के चाय के स्वाद के लिए तरस गईं. हालांकि, उन्होंने उम्मीद नहीं छोड़ी. उनके अंदर चाय का जुनून ऐसा हो गया कि उन्होंने खुद चाय की बिजनेस शुरू करने की ठान ली. और इसी तरह 2007 में एडी ने अपने चाय की बिजनेस शुरू कर दी. जिसका नाम है- भक्ति चाय. उन्होंने अपनी कार में अपनी दूकान को सेट कर लिया और लोगों के बीच चाय बेचने लगी और अमेरिका में एक अलग स्वाद की चाय बेचने लगीं.

अमेरिकी साप्ताहिक मैग्जीन के मुताबिक, 2002 में भारत की यात्रा के दौरान एडी को चाय से प्यार हो गया. लेकिन जब वह 2006 में अमेरिका लौट आईं, तो वह वहां वैसी चाय के लिए तरस गईं, जैसा स्वाद भारत के चाय में मिलता है. एडी ने 2006 में भक्ति के आदर्शों के आधार पर अपनी कंपनी बनाने का फैसला किया. उन्होंने अपनी गाड़ी के पीछे से एक सेट तैयार किया और उसी में चाय बेचना शुरू कर दिया. तुरंत ही एडी के चाय के लोग दीवाने हो गये और उनकी जबरदस्त फैन फॉलोइंग बढ़ गई.

बिजनेस शुरू करने के महज एक साल बाद ही भक्ति चाय ने अपना पहला वेबसाइट https://drinkbhakti.com/ भी लॉन्च कर दिया और एडी की घर-घर घूमकर बेचने वाली कंपनी का ग्रोथ अब एक बिजनेस के रूप में बहुत आगे बढ़ गया. वैन में भारतीय देवी-देवताओं के फोटो भी लगे हैं।

वह कहती हैं कि ‘मैं एक व्हाइट गर्ल हूं और अमेरिका के कोलोराडो में पैदा हुई हूं. मेरे मन में भारत के लिए कुछ होना नहीं चाहिए, लेकिन मेरे मन में प्यार है. मुझे वहां के लोगों की विभिन्नता काफी पसंद है. मैं जब भी वहां जाती हूं मुझे कुछ ना कुछ नया देखने को मिलता है. वह एकदम वास्तविक लगता है.’

बता दें कि एडी एक बच्चे की मां हैं. उन्होंने अपनी पूर्णकालिक नौकरी भी छोड़ दी हैं. 2014 में ब्रुक एडी एंटरप्रेन्योर पत्रिका के एंटरप्रेन्योर ऑफ द ईयर अवॉर्ड में टॉप 5 फाइनलिस्ट थीं.

ब्रुक एडी से सुनिये उनकी सफलता की कहानी इस यूट्यूब लिंक पर



Leave a Reply
 

Your email address will not be published. Required fields are marked (*)

You may use these HTML tags and attributes: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>

सम्बंधित लेख
 

Back to Top