ताजा सामाचार

आप यहाँ है :

अमिताभ बच्चन को भारी पड़ी कविता, एक करोड़ का नोटिस

अमिताभ बच्चन एक बार कानूनी शिकंजे में फंस गए हैं। एक कविता को रिट्वीट करने को लेकर उन पर एक करोड़ रुपए का मुकदमा ठोंक दिया गया है। अमिताभ बच्चन के ट्विटर अकाउंट पर किसी विकास दुबे नाम के शख्स ने 'कोर्ट का कुत्ता' नाम की एक कविता पोस्ट की और बिग बी ने इस कविता को विकास दुबे के नाम से ट्विटर और फेसबुक पर शेयर कर दिया और लिखा, 'मेरे एक फॉलोअर विकास दूबे की एक और शानदार कथा'।

 

असल में यह कविता विकास दुबे नहीं बल्कि हरियाणा के रोहतक महर्षि दयानंद यूनिवर्सिटी (एमडीयू) के यूथ वेलफेयर डिपार्टमेंट के डायरेक्टर जगबीर राठी की थी। जगबीर राठी ने जब अपनी कविता को किसी और के नाम से शेयर किए हुए पाया तो उन्होंने बच्चन को इसकी सही जानकारी ई-मेल करके और ट्विटर, फेसबुक पर दी, लेकिन किसी के इस बारे में जवाब न मिलने पर जगबीर राठी ने कानून का सहारा लिया। जगबीर राठी ने अमिताभ बच्चन को लीगल नोटिस भेजकर 15 दिन में जवाब और 1 करोड़ रुपए की मांग की है।

 

डॉ. जगबीर कहते हैं कि उनकी ओर से अमिताभ बच्चन को पोस्ट हटाने के लिए एक महीने से प्रयास किया जा रहा है, लेकिन उनकी ओर से कोई ध्यान नहीं दिया गया। यहां तक कि उनकी पीए से भी बात की गई थी। उन्होंने मौलिक पुस्तक व कविता मंगवाई। ये भेजने के बाद भी कोई सुनवाई नहीं की जा रही है। अब तो ट्विटर पर भी पोस्ट किया गया है।

 

जगबीर  राठी ने 2006 में 'माटी का चूल्हा' किताब लिखी थी, इसी किताब में 'कोर्ट में कुत्ता' नाम की कविता शामिल है

image_pdfimage_print


सम्बंधित लेख
 

Back to Top