आप यहाँ है :

जियो मामी में दुनिया भर की 150 फिल्में

जियो मामी मुंबई फिल्म समारोह यहां 29 अक्टूबर से प्रारंभ होगा, जिसमें दुनियाभर की 150 से अधिक फिल्में दिखाई जाएंगी। इनमें मशहूर फीचर, लघु और डॉक्यूमेंटरी फिल्में शामिल होंगी। फिल्म समारोह के लिए आभूषण डिजाइनर नीरव मोदी ने नई ट्रॉफी भी तैयार की है।

फिल्म निर्माता दिबाकर बैनर्जी के मुताबिक, “जियो मामी के दर्शकों को 31 भारतीय फिल्में देखने को मिलेंगी जो भारत में पहले कभी नहीं दिखाई गईं।”

इंडिया गोल्ड वर्ग में 13 फिल्में सर्वश्रेष्ठ फिल्म पुरस्कार के लिए दावेदारी करेंगी। भारतीय कहानी वर्ग में 15 काल्पनिक फीचर और पांच डॉक्यूमेंट्री फिल्में शामिल हैं।

समारोह में ‘आफ्टर डार्क’ नामक एक नया वर्ग शुरू किया जा रहा है, जिसके तहत डरावनी और विज्ञान आधारित काल्पनिक फिल्में दिखाई जाएंगी।

समारोह में बड़ों के साथ बच्चों का भी खास ध्यान रखने की कोशिश की गई है। इसी कोशिश में बच्चों के लिए नया वर्ग शुरू किया जा रहा है जिसे नाम दिया गया है ‘हाफ टिकट’ जिसमें दुनियाभर की अभूतपूर्व, काल्पनिक, एनीमेशन डॉक्यूमेंट्री फीचर और लघु फिल्में बच्चों के जूरी पुरस्कार के लिए लिए दावेदारी पेश करेंगी।

समारोह में बच्चों को प्रख्यात निर्देशकों और लेखकों से फिल्म निर्माण सीखने का मौका भी मिलेगा।

समारोह में सिनेमा में उत्कृष्टता के लिए दो पुरस्कार दिए जाएंगे, जिनमें से एक भारतीय और एक अंतर्राष्ट्रीय शख्सियत को दिया जाएगा। इनमें अंतर्राष्ट्रीय पुरस्कार इजरायली फिल्म निर्माता अमोस गिताई को और भारतीय पुरस्कार पटकथा लेखकों सलीम खान और जावेद अख्तर को दिया जाएगा।

इस वर्ष अंतर्राष्ट्रीय श्रद्धांजलि फ्रांसीसी निर्देशक एग्नेस वर्दा को दी जाएगी, जिन्हें कान्स अंतर्राष्ट्रीय फिल्म समारोह का सबसे प्रतिष्ठित पुरस्कार ‘पाम डीओर’ प्रदान किया गया था।

image_pdfimage_print


सम्बंधित लेख
 

Back to Top