आप यहाँ है :

भूपेश आर्य
 

  • नास्तिकों के तर्कों की समीक्षा

    अष्टाङ्ग योग द्वारा लाखों योगियों ने उस सृष्टिकर्त्ता का साक्षात्कार किया है। ऋषि ब्रह्मा से लेकर जैमिनी तक अनेकों ऋषि-मुनि तथा राजा-महाराजा भी ईश्वर-उपासना किया करते थे और आज भी अनेकों लोगों की उस परम चेतन सत्ता में श्रद्धा है।

Get in Touch

Back to Top