आप यहाँ है :

राहुल खडिया
 

  • भारतीय परिदृश्य और कोइतूर सिनेमा

    भारतीय परिदृश्य और कोइतूर सिनेमा

    आदिवासी विषयों को विश्वसनीयता के साथ फिल्माने वाली ‘मृगया’ में पद्मभूषण, पद्मविभूषण और दादा साहेब फाल्के पुरस्कार से नवाज़े गए निर्देशक मृणाल सेन ने दिखाने का प्रयास किया है कि फ़िल्म में वास्तविक शिकारी धूर्त साहूकार है,

Back to Top