ताजा सामाचार

आप यहाँ है :

राजीव शुक्ला
 

  • अपने पुरखों का गाँव गोद लेकर उसे भूल गए आमिर खान

    अपने पुरखों का गाँव गोद लेकर उसे भूल गए आमिर खान

    पैतृक गांव अख्तियारपुर पर आमिर के रवैये से यहां के बाशिंदे आहत हैं। अस्सी वर्षीय बुजुर्ग माखनलाल ने कहा कि वह अपने साथ खेले-कूदे बाकर खां, ताहिर खां के वंशज और इतनी बड़ी हस्ती आमिर की एक झलक देखना चाहते हैं। उनके चचेरे भाई डा. नईम अख्तर के अनुसार आमिर के चचा सन 1945 में यह मोहल्ला छोड़ गए थे।

Back to Top