ताजा सामाचार

आप यहाँ है :

सर्वेश सिंह
 

  • कल्पना के सनातन शिल्प में

    कल्पना के सनातन शिल्प में

    इंदिरा दांगी, हिंदी की कोई नई कल्पिका नहीं हैं I वे लगभग एक दशक से सक्रिय हैं I पुरस्कृत-सम्मानित भी हैं I गद्य के तीनों कल्पनाप्रधान रूपों- उपन्यास, कहानी और नाटक- पर उनकी लेखनी चली है I महत्त्वपूर्ण आलोचकों ने भी सामायिक कथा लेखन में उनका प्रमुखता से उल्लेख किया है I विपश्यना उनका नवीनतम […]

Get in Touch

Back to Top