ताजा सामाचार

आप यहाँ है :

शशि पाण्डेय
 

  • दिल पे पत्थर रख कर मुँह पे मास्क रख लिया

    दिल पे पत्थर रख कर मुँह पे मास्क रख लिया

    ऊर्जा की बात आयी तो एक और घटना याद आयी .. एक दिन पेड़ के नीचे महात्मा बुद्ध जैसे बैठी थी। उनसे थोड़ी सी मेरी स्थिति अलग थी । बुद्ध ज्ञान लेने बैठे थे मैं अल्पज्ञानी बच्चों को ज्ञान

  • वायरस बनाम कीड़े मकोड़े और घरघुस्सा

    वायरस बनाम कीड़े मकोड़े और घरघुस्सा

    चाइना हमारे हिन्दी फिल्म के एक डायलॉग से इस कदर दुखी हो गया कि उसने एक वायरस ला कर दिखा दिया कि ..नाना पाटेकर साहब का एक मच्छर तो लोगो हिजड़ा बना रहा था लेकिन चाइना का एक वायरस पूरी दुनिया को ही घरघुस्सा बना देगा ।

  • हमको बदलने के संकेत !

    हमको बदलने के संकेत !

    ये महामारी तो मात्र एक अलार्म जान पॾता है ।हमारी जिस तरह की बेपरवाही की जीवन शैली हो चुकी है उसमें महामारियों से बचे तो भी एक दिन हम प्यास और भूख से ऐसे मारे जाएंगे ।

  • आंख मार भाषण

    आँख मानव जीव का एक ऐसा अंग है जिसके देखने अलावा और कई मुख्य कार्य हैं। ये देश के विज्ञानियों के लिये बहुत महत्वपूर्ण विषय माना जाना चाहि

  • पैग मार बेबी छोटे – छोटे पैग मार

    संडे का दिन सफाई जोरों पर कुर्सी , कुर्सी के ऊपर मोढा , मोढा के ऊपर मै विराजमान पंखे को पतित करती हुई तभी मेरे सफाई का सहयोगी और पीए बने हुये बेटे के मुंह से कुछ गुनागुनाते हुये सुना .. पैग मार बेबी छोटे - छोटे पैग मार ।ये गाना सुन कर आश्चर्यचकित रह गयी लेकिन मां के रुप

Back to Top