ताजा सामाचार

आप यहाँ है :

कैरियर
 

  • बड़ी नेमत है अपनी चुनी राह पर चलते जाना

    बड़ी नेमत है अपनी चुनी राह पर चलते जाना

    अभी के दौर में जीवन मूल्यों को भी आयात-निर्यात की नजर से देखा जाने लगा है। लेकिन भारत ने अपने मूल्य न तो अभी तक किसी पर थोपे हैं, न ही उनका निर्यात किया है। इनमें से जो भी दुनिया को अपने काम का लगता है,अभी के दौर में जीवन मूल्यों को भी आयात-निर्यात की नजर से देखा जाने लगा है। लेकिन भारत ने अपने मूल्य न तो अभी तक किसी पर थोपे हैं, न ही उनका निर्यात किया है। इनमें से जो भी दुनिया को अपने काम का लगता है,

  • आपकी  आवाज़ भी संवार सकती है आपका भविष्य , पैदा करें आवाज़ में कशिश

    आपकी आवाज़ भी संवार सकती है आपका भविष्य , पैदा करें आवाज़ में कशिश

    आज सूचना और संचार के विस्फोट का युग है। प्रिंट के साथ पूरी दुनिया में इलेक्ट्रॉनिक मीडिया का बोलबाला है। इस युग में इलेक्ट्रॉनिक मीडिया से तात्पर्य टीवी चैनल ही हो गया है।

  • अपने ‘आज’ को सँवारें, ‘कल’ स्वयं निखर जाएगा

    अपने ‘आज’ को सँवारें, ‘कल’ स्वयं निखर जाएगा

    बहुत विचित्र है मानव मन. कभी यह मन अपने अदृश्य पंखों से हिमालय की ऊँचाइयों तक पहुँचना चाहता है, कभी उन्हीं पंखों को समेटकर सागर की गहराइयाँ नापना चाहता है. कभी धूमिल आतीत को याद करता है, तो कभी स्वप्निल भविष्य में खो जाता है हमारा मन. सिर्फ़ वर्तमान को छोड़कर काल के सभी खण्डों में भटकने का आदी हो जाता है मानव मन.

  • सॉफ्ट स्किल प्रशिक्षकों को आकर्षक रोजगार

    सॉफ्ट स्किल प्रशिक्षकों को आकर्षक रोजगार

    व्यावहारिक कौशल अक्सर एक व्यक्ति के अन्य लोगों के साथ संबंधों के तौर तरीके, व्यक्तित्व लक्षण, सामाजिक गौरव, संचार, भाषा, व्यक्तिगत आदतों, मित्रता और आशावाद के साथ जुड़ा शब्द है। साफ्ट स्किल एक नौकरी और कई अन्य गतिविधियों की व्यावसायिक जरूरत को पूरा करती हैं। व्यवहार कुशलता से आपकी तकनीकी दक्षता में चार चाँद लग जाते हैं। आप अधिक स्वीकार किये जाते हैं,अधिक सहयोग और सम्मान के अधिकारी बनते हैं और आपकी कार्यशैली अधिक परिणाम देने वाली सिद्ध होती है।

  • व्यापक रूप से बढ़ गई है पत्रकारिता की प्रासंगिकता

    व्यापक रूप से बढ़ गई है पत्रकारिता की प्रासंगिकता

    भारत में विकास तथा गवर्नेंस का क्षेत्र हाल ही में एक नया उदाहरण बना है, जिसका मुख्य आधार नई नीतिगत अर्थ व्यवस्था, परिवर्तित व्यवसाय, परिवेश और ज्ञान की शक्ति का सर्वस्वीकृत होना है।

  • उच्च शिक्षा में अब बेहतर विद्यार्थियों के  पास हैं विकल्प – डॉ.चंद्रकुमार जैन

    उच्च शिक्षा में अब बेहतर विद्यार्थियों के पास हैं विकल्प – डॉ.चंद्रकुमार जैन

    राजनांदगांव। दिग्विजय कालेज के प्रोफ़ेसर डॉ.चंद्रकुमार जैन ने कहा है कि देश में उच्च शिक्षा की गुणवत्ता का मसला इन दिनों कुछ ज्यादा चर्चा में है। निजी प्रबंधन संस्थान और इंजीनियरिंग कॉलेज जहां 4 लाख विद्यार्थी उत्तीर्ण हो रहे हैं,

  • स्वयंसेवी क्षेत्र में रोजगार के प्रचुर अवसर

    स्वयंसेवी क्षेत्र में रोजगार के प्रचुर अवसर

    समाज कार्य का अर्थ लोगों को उनकी प्रतिदिन की सामाजिक समस्याओं का हल खोजने में मदद करना है। वर्तमान में समाज कार्य की अवधारणा में व्यापक परिवर्तन आया है। यह कार्य केवल दया या परोपकार की भावना से ही नहीं जुड़ा है बल्कि रोजगार के रूप में भी युवाओं को बहुत आकर्षित कर रहा है।जिन छात्रों की रुचि कॅरियर के साथ-साथ समाजसेवा भी है।

  • किताबों की दुनिया में भविष्य की अक्षर लकीरें

    किताबों की दुनिया में भविष्य की अक्षर लकीरें

    किताबों की दुनिया व्यक्ति को केवल ज्ञान का भंडार ही नहीं उपलब्ध कराती बल्कि किताबें किसी भी व्यक्ति की वे साथी हैं जिनके कारण व्यक्ति स्वयं को कभी अकेला महसूस नहीं करता। पुस्तकें अथवा किताबें किसी व्यक्ति के लिए ज्ञान का वह भंडार हैं जिसके कारण व्यक्ति स्वयं को अत्यधिक सहज एवं ज्ञान से परिपूर्ण पाता है।

  • प्रबंध और प्रशासन में व्यवहार कौशल का असर

    प्रबंध और प्रशासन में व्यवहार कौशल का असर

    गोस्वामी तुलसीदास जी ने कहा है - सीय-राम मय सब जग जानी,करहुं प्रणाम जोरि जुग पानी या सब देखहिं प्रभुमय जगत केहि सन करहिं विरोध। जब तक आप इस भाव भूमि पर स्थापित न हो जाएँ तब तक जीवन में व्यावहारिक नियमों का पालन अवश्य करना चाहिये,नहीं तो आपका जीवन और आपका कर्मक्षेत्र दूभर और दुखप्रद हो सकता है

  • इवेन्ट मैनेजमेंट : रंग जमाएँ, जमकर कमाएँ

    इवेन्ट मैनेजमेंट : रंग जमाएँ, जमकर कमाएँ

    आज के दौर में इवेंट मैनेजमेंट एक आकर्षक तथा शानदार व्यवसाय है। यह व्यवसाय आपकी किसी सृजनशील संभावनाओं को नई ऊँचाइयों पर ले जाने का अवसर देता है। इवेंट मैनेजमेंट किसी विशेष लक्षित श्रोता के लिए किसी व्यवसाय या इवेंट के संयोजन की प्रक्रिया है। इसमें संगीत समारोह, फैशन प्रदर्शनी, कार्पोरेट सेमीनार, प्रदर्शनियों, विवाह समारोह, थीम पार्टी,प्रदर्शनी, उत्पाद-प्रक्षेपण, व्यापार और रिजगार मेला आदि कार्यक्रमों (इवेंट्स) की संकल्पना, नियोजन, बजटीकरण, संयोजन तथा निष्पादन शामिल है।

  • Page 1 of 3
    1 2 3

ईमेल सबस्क्रिप्शन

PHOTOS

VIDEOS

Back to Top

Page 1 of 3
1 2 3