आप यहाँ है :

उपभोक्ता मंच
 

  • रेल में बच्चों के लिए बर्थ पाने के लिए नया नियम

    सफर के दौरान यदि 5 से 12 साल की आयु के बच्चों के लिए ट्रेन में बर्थ नहीं चाहिए तो रिजर्वेशन फार्म में ' एनओएसबी' लिखना होगा। इसी के आधार पर आधे किराए की छूट मिलेगी। लेकिन बर्थ चाहिए तो कुछ लिखने की आवश्यकता नहीं है। यात्रियों की सुविधा के लिए रेलवे ने रिजर्वेशन फार्म में एक नया कालम जोड़ रही है जिसमें यह जानकारी रहेगी।

  • जेट एअरवेज, स्पाईस जेट और इंटरग्लोब एविएशन पर 54 करोड़ का जुर्माना

    भारतीय प्रतिस्पर्धा आयोग (सीसीआई) ने माल परिवहन पर फ्यूल सरचार्ज लगाने में गलत तरीका अपनाने के लिए तीन एयरलाइन कंपनियों पर 54 करोड़ का बड़ा जुर्माना लगाया है। सीसीआई ने जेट एयरवेज, इंटरग्लोब एविएशन और स्पाइजेट पर ठोका है।

  • बीमारी को लेकर जागरुकता के लिए गूगल और अपोलो की पहल

    गूगल इंडिया ने चिकित्सा के क्षेत्र के चर्चित संस्थान अपोलो के साथ मिलकर अपने सर्च इंजन में एक नया फीचर जोड़ा है. ‘सिम्पटम सर्च’ नाम से लांच किया गया यह फीचर लोगों को किसी बीमारी के सिम्पटम्स यानी लक्षणों के बारे में ज्यादा बेहतर जानकारी देगा. गूगल के मुताबिक यह फीचर हिंदी और अंग्रेजी दोनों भाषाओं में लांच किया गया है. जब कोई यूजर गूगल सर्च इंजन पर किसी बीमारी के बारे में सर्च करेगा तो यह नया फीचर ‘हेल्थ कार्ड’ के रूप में सबसे ऊपर दिखेगा.

  • वाट्सएप पर मंडराए खतरे के बादल, मुकदमा हारा तो बंद होगी सेवाएँ

    वाट्सएप पर मंडराए खतरे के बादल, मुकदमा हारा तो बंद होगी सेवाएँ

    वॉट्सऐप, जाना-पहचाना और सबकी जुबान पर रहने वाला नाम। एक ऐसा मेसेजिंग ऐप्लिकेशन जिसे दुनियाभर में सबसे ज़्यादा इस्तेमाल किया जाता है। वॉट्सऐप मुश्किल में पड़ गया है। और इस मुश्किल की वजह है ब्लैकबेरी। वही, जो अब से कुछ साल पहले अपने क्वार्टी स्मार्टफोन के लिए जानी जाती थी। ब्लैकबेरी एक बार फिर सुर्खियों में है। लेकिन, किसी स्मार्टफोन या किसी नई तकनीक के लिए नहीं बल्कि फेसबुक को पर मुकदमा दर्ज करवाने के लिए। जी हां, ब्लैकबेरी ने फेसबुक पर मेसेंजर, वॉट्सऐप और इंस्टाग्राम के लिए अपनी पेटेंट तकनीक की चोरी का आरोप लगाया है। ब्लैकबेरी का कहना है कि सोशल मीडिया दिग्गज पर अपने लोकप्रिय इंस्टेंट मेसेजिंग ऐप्लिकेशंस में ब्लैकबेरी की तकनीक इस्तेमाल कर रही है। जानें वो बातें जिन्हें आधार बनाकर फेसबुक को कोर्ट में घसीटा गया है..

  • अस्पतालों की मनमानी पर सरकार जागी, मगर अस्पतालों का सहयोग नहीं

    देश भर के अस्पतालों में दवाओं से लेकर सर्जरी तक की कीमतें नियंत्रित करने के लिए जल्द ही केंद्र सरकार नए नियम लागू करने जा रही है। इसके बाद दिल के ऑपरेशन से लेकर खून तक की कीमतों में भारी कमी आएगी। नए मास्टर प्लान के अनुसार दवाओं पर 10 गुना से ज्यादा मुनाफा नहीं लिया जा सकता। नया नियम संभवत: मई तक लागू हो जाएगा।

  • वाट्सऐप से घबराया पेटीएम

    ज़्यादा पुरानी बात नहीं जब कुछ सामान ख़रीदने पर जेब से पैसे निकालकर देने होते थे. फिर ज़माना बदला और मोबाइल फ़ोन ही जेब बन गया. इससे पहले शुरुआत में बड़े खर्च के लिए क्रेडिट-डेबिट कार्ड इस्तेमाल होते थे, लेकिन मोबाइल ने ऐसा विकल्प दिया कि छोटे खर्च के लिए नोट या सिक्कों का इस्तेमाल कम होता चला गया. और अब ये इतना बढ़ गया है कि मोबाइल पेमेंट के खिलाड़ियों की जंग तेज़ हो रही है. बातचीत का नया और असरदार ज़रिया बनने वाले वॉट्सऐप ने जब से इस मैदान में कूदने का एलान किया, पुराने दिग्गजों में चिंता बढ़ गई है.

  • कंपनियाँ अपना ही नकली माल बेच रही है

    न्यू यॉर्क । अमेरिका के एक शहर में सड़क किनारे लगे मार्केट में लोग हफ्ते के अंत में मिल रहे सस्ते कपड़ों की शॉपिंग में लगे हैं। जींस, टी-शर्ट्स, हूडीज और बॉक्सर्स पर जो लोगो लगे हैं बड़े ब्रैंड्स के लोगोज से मिलते-जुलते ही हैं। फेमस ब्रैंड Diesel (डीजल) की स्पेलिंग कपड़ों पर Deisel लिखी है। ब्रैंड लोगो में स्पेलिंग थोड़ी अलग है लेकिन आप जितना देंगे आपको उतना ही मिलेगा। चौंकाने वाली बात यह है कि इस नकली डीजल जींस को भी असली कंपनी ने बनाया है।

  • अब आसानी से मिल जाय़एगा गुमा हुआ फोन

    गुम हुआ मोबाइल वापस पाना आगामी अप्रैल माह से आसान हो जाएगा। दूरसंचार विभाग महाराष्ट्र सर्किल में चल रही केंद्रीय मोबाइल उपकरण रजिस्टर (सीएमईआर) पायलट परियोजना को 31 मार्च तक पूरा कर लेगा। इसके सफल होते ही पूरे देश में इस परियोजना को लागू किया जाएगा।

  • इस तरह कार बेचना कहीं आपको महंगा न पड़ जाए

    कार बेचकर अगर उसका रजिस्ट्रेशन अगले मालिक के नाम पर ट्रांसफर नहीं किया गया है तो दुर्घटना होने की स्थिति में हर्ज़ाना पहले मालिक को भरना होगा. सुप्रीम कोर्ट ने कार दुर्घटना से जुड़े एक मामले में यह व्यवस्था दी है.

  • शाओमी की बेईमानी पर उपभोक्ता न्यायालय ने नकेल कसी

    बेंगलुरु। वॉरंटी पीरियड के अंदर रहते हुए फोन रिपयेरिंग के लिए चार्ज करने पर फोन निर्माता कंपनी शाओमी को यहां कि सिटी कंज्यूमर कोर्ट ने एक ग्राहक को मुआवजा देने के लिए कहा है। कोर्ट ने कंपनी और सर्विस सेंटर को फोन की कीमत और मुकदमे में आया खर्च देने का आदेश दिया है।

Back to Top