आप यहाँ है :

मीडिया की दुनिया से
 

  • दाउद इब्राहिम की  करोड़ों की संपत्ति जप्त करने का रास्ता साफ

    दाउद इब्राहिम की करोड़ों की संपत्ति जप्त करने का रास्ता साफ

    सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर मोस्ट वॉन्टेड आतंकी दाऊद इब्राहिम की मुंबई स्थित करोड़ों रुपए की प्रॉपर्टी सरकार सीज करेगी। सुप्रीम कोर्ट ने इस मामले में दाऊद की मां अमीना बाई कासकर और दाऊद की बहन हसीना पारकर की याचिका खारिज कर दी है। बता दें कि दाऊद की यह प्रॉपर्टी मुंबई के नागपाड़ा इलाके में है और दाऊद की बहन और मां का इस पर कब्जा था। फिलहाल, दाऊद की मां और बहन की मौत हो चुकी है।

  • पीयूष गोयल ने पूछा, मीडिया वालों के पास पैसा कहाँ स आता है

    पीयूष गोयल ने पूछा, मीडिया वालों के पास पैसा कहाँ स आता है

    ये सवाल भले ही रेल मंत्री पीयूष गोयल ने पूछा हो, लेकिन जवाब वाकई में देश जानना चाहता है। हर कोई जानना चाहता है कि मीडिया हाउसेज के पास पैसा कहां से आता है, कितना आता है। ये सवाल रेल मंत्री पीयूष गोयल ने मशहूर टीवी पत्रकार दिबांग से एक प्रोग्राम में तब पूछा जब दिबांग लोकमत के एक शो में उनका इंटरव्यू कर रहे थे। बाद में दिबांग के सवाल और अपने जवाब को पीयूष गोयल ने ट्विटर पर शेयर कर दिया। जिसके अब तक सैकड़ों रिट्वीट हो चुके हैं।

  • ये कैसी पढ़ाई जो आत्महत्या सिखा रही है

    ये कैसी पढ़ाई जो आत्महत्या सिखा रही है

    भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आईआईटी) कानपुर से एक छात्र द्वारा आत्महत्या करने की खबर है. भीम सिंह नाम का यह छात्र फरीदाबाद का रहने वाला था और पीएचडी के तीसरे वर्ष की पढ़ाई कर रहा था. खबरों के मुताबिक छात्र ने अपने ही कमरे में पंखे से लटककर फांसी लगा ली. आत्महत्या की वजह साफ नहीं हो पाई है, लेकिन पुलिस को कमरे से कई टुकड़ों में फटी एक चिट्ठी मिली है जिसकी जांच की जा रही है.

  • दलित युवक को कंदे पर लेकर मंदिर के अंदर ले जाने की परंपरा

    दलित युवक को कंदे पर लेकर मंदिर के अंदर ले जाने की परंपरा

    हैदराबाद: हैदराबाद में एक मंदिर के पुजारी ने नई शुरुआत करते हुए एक दलित युवक को अपने कंधों पर बिठाया, और श्री रंगनाथ मंदिर के भीतर लेकर गए. पुजारी ने मंदिर के भीतर पहुंचकर इस युवक आदित्य पारासरी को गले भी लगाया. हैदराबाद के चिल्कुर बालाजी मंदिर के पुजारी सीएस रंगराजन ने बताया कि उनके ऐसा करने से हालिया दिनों में दलितों के साथ हुए भेदभाव और उनके खिलाफ हुईं हिंसात्मक घटनाओं के विरुद्ध देशभर में मजबूत संदेश जाएगा. बताया गया है कि यह परम्परा लगभग 3,000 साल पुरानी है, और तमिलनाडु में पुजारी द्वारा दलित युवक को कंधों पर बिठाकर मंदिर ले जाने की इस प्रथा को 'मुनि वाहन सेवा' के नाम से जाना जाता है.

  • दुष्‍कर्म पीडि़त बच्‍चों को न्‍याय के लिए  कैलाश सत्यार्थी के फाउंडेशन ने तैयार की यह रिपोर्ट

    दुष्‍कर्म पीडि़त बच्‍चों को न्‍याय के लिए कैलाश सत्यार्थी के फाउंडेशन ने तैयार की यह रिपोर्ट

    नोबेल शांति पुरस्‍कार विजेता और बचपन बचाओ आंदोलन के संस्‍थापक कैलाश सत्‍यार्थी ने बाल यौन हिंसा की लगातार बढ़ रही घटनाओं को राष्‍ट्रीय आपातकाल बताया है। कैलाश सत्‍यार्थी चिल्‍ड्रेन्‍स फाउंडेशन द्वारा आयोजित संगोष्‍ठी में उन्‍होंने कहा, हर पल दो बेटियां दुष्‍कर्म का शिकार हो रही हैं। यही नहीं, दुष्‍कर्म के बाद कई बच्चियों की हत्‍या तक कर दी जाती है। बाल सुरक्षा को सुनिश्चित करने और उसे प्रभावी बनाने के मकसद से यह संगोष्‍ठी आयोजित की गई थी।

  • कठुआ बलात्कार कांडः पीड़ित बच्ची की पहचान सार्वजनिक करने वाले 12 चैनलों पर दस-दस लाख का जुर्माना

    कठुआ रेप केस की पीड़िता आठ वर्षीय बच्ची की पहचान उजागर करने वाले मीडिया घरानों ने बुधवार को दिल्ली हाईकोर्ट से माफी मांग ली। इसके बाद कोर्ट ने सभी मीडिया घराने पर 10-10 लाख रुपये जुर्माना लगाते हुए यह राशि जम्मू-कश्मीर पीड़ित मुआवजा कोष में देने का निर्देश दिया है।

  • लिंगायत हिंदू नहीं तो कौन?

    लिंगायत हिंदू नहीं तो कौन?

    कर्नाटक में लिंगायत समाज राजनीतिक-सामाजिक दृष्टि से अति सम्मानित स्थान रखता है। धर्म-आस्था और सांस्कृतिक सूत्रों के अनुसार लिंगायत हिन्दू धर्म का ही अंग हैं।

  • गरीब बच्चा 7 कि.मी पैदल चलकर सांसद से मिलने पहुँचा

    गरीब बच्चा 7 कि.मी पैदल चलकर सांसद से मिलने पहुँचा

    जबलपुर। सांसद राकेश सिंह का उपवास अनशन के शुरू होने से पहले ही एक चौथी क्लास का बच्चा उनसे मिलने पहुंच गया। वह कई दिनों से सांसद से मिलना चाह रहा था, लेकिन उसे पता ही नहीं मालूम था। सुबह सांसद के धरने में बैठने की खबर सुनी। फौरन उनसे मिलने घर से निकल पड़ा। वो भी पैदल।

  • महिलाओँ के लिए आया अलग चैनल

    महिलाओँ के लिए आया अलग चैनल

    मोबाइल ब्राउजर ऐप यूसी ब्राउजर ने महिलाओं से जुड़े कंटेंट पर आधारित एक नया चैनल शुरू किया है, जोकि एक सिंगल प्लेटफॉर्म पर है।इस चैनल पर शिक्षा, स्वास्थ्य, फैशन, लाइफस्टाइल, रिश्ते और अन्य क्षेत्रों से जुड़ीं महिला उन्मुखी खबरें और सूचनाएं प्रदान की जाएंगी। इसके लिए कंपनी ने चुनिंदा मीडिया संगठनों और यूसी वी-मीडिया ब्लॉगरों के साथ साझीदारी की है।

  • इलाहबाद कुंभ में इस बार मिलेंगे 192 देशों के पकवान

    इस बार कुम्भ में विश्व के 192 देशों से 20 लाख से अधिक पर्यटकों के इलाहाबाद आने की उम्मीद है। सभी पर्यटक भारतीय व्यंजन नहीं पसंद करेंगे। ऐसे में उन्हें उनके देश के खाने का स्वाद दिया जाएगा। पर्यटन विभाग कुम्भ क्षेत्र में जो रसोई बना रहा है उसमें इन देशों के व्यंजनों को शामिल किया जाएगा। क्षेत्रीय पर्यटन अधिकारी अनुपम श्रीवास्तव का कहना है कि इन देशों के सभी व्यंजनों को कुम्भ की रसोईं में शामिल करना तो मुश्किल होगा लेकिन खास-खास व्यंजन जरूर रखे जाएंगे। इसके लिए कुक की नियुक्ति की जाएगी।

Back to Top