ताजा सामाचार

आप यहाँ है :

खबरें
 

  • The War Against Md Phd Computer Science

    The references ought to be on an organization letterhead, signed and dated and they ought to be connected to the application. The data might be structured or unstructured. More comprehensive information ishere. The documents you have to appear in your application may depend on factors like the academic amount of your training course. Query processing […]

  • The Death of Dissertation Writing Services

    The main purpose of dissertation help companies is to supply professional academic support in record-beating time to students. Suppose, you’ve already worked to prepare a good dissertation using your own wisdom and efforts, but the urge to find expert dissertation help is high. Our dissertation writing service team will help you select the proper methodology […]

  • The Characteristics of Dissertation Writing

    If you’re interested in hiring a dissertation writing service to assist. Your dissertation is crucial, so it’s most effective to acquire different people’s opinions on it. You may start to feel your dissertation won’t ever be good enough, and that you will need to revise it over and over. Before you commence writing your dissertation, […]

  • चाय पीने के बाद ये कप खाने के काम भी आएगा

    इसी बीच हैदराबाद की एक कंपनी ने ऐसा प्रयोग किया है जिससे सरकार की इस मुहिम को बड़ी मदद मिल सकती है। दरअसल कंपनी द्वारा एक खास कप तैयार किया गया है।

  • महात्मा गाँधी : सबको सन्मति देने वाली अनोखी पुकार

    महात्मा गाँधी : सबको सन्मति देने वाली अनोखी पुकार

    महात्मा गाँधी कहते हैं - शुद्धमन से सहन किया गया सच्चा दुःख पत्थर जैसे हृदय को भी पिघला देता है। इस दु:ख सहन की अथवा तपस्या की ऐसी ही ताकत है और यही सत्याग्रह का रहस्य है। अगर हम भी महात्मा गाँधी की भाँति जैन धर्म

    • By: डॉ. चन्द्रकुमार जैन
    •  ─ 
    • In: खबरें
  • संघ की 60 हजार शाखाएं नियमित लग रही है: श्री अरुण कुमार

    संघ की 60 हजार शाखाएं नियमित लग रही है: श्री अरुण कुमार

    राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के अखिल भारतीय प्रचार प्रमुख अरुण कुमार जी ने कहा कि संघ कार्य में नई पीढ़ी का प्रवेश तेजी से हो रहा है।

  • दोहा सृजन

    खुसरो ने संकेत में, समझा दी हर बात । भाषा अब संकेत की, करती केवल घात।। रहिमन के संदेश में, था जीवन का सार । अब जितने संदेश हैं, सबके सब बेकार ।।

  • संत कबीर की तपस्थली ‘कबीर चबूतरा’

    संत कबीर की तपस्थली ‘कबीर चबूतरा’

    कबीर ऐसे संत हैं जिन्होंने सामाजिक कुरीतियों पर बिना किसी भेदभाव के चोट कर समाज को बेहतर बनाने का प्रयास किया। कबीर आज के विद्वानों की तरह संप्रदाय और जाति के आधार पर घटनाओं/परंपराओं/समस्याओं को चीन्ह-चीन्ह कर आलोचना नहीं करते थे।

    • By: लोकेन्द्र सिंह
    •  ─ 
    • In: खबरें
  • सुकुसुम एक जापानी वनस्पति अब खिलखिला रही है भारतवर्ष में

    सुकुसुम एक जापानी वनस्पति अब खिलखिला रही है भारतवर्ष में

    रंग बदलने की यह क्षमता भी इस प्राजाति मे यूँ ही नही है, इस गुण के लिए इस वनस्पति ने स्वयं में शिव तत्त्व का समावेश किया है, याद ही होगा आप सभी को भगवान शिव के गले मे विष धारण करने की कथा

    • By: कृष्ण कुमार मिश्र
    •  ─ 
    • In: खबरें
  • गंगा आज फिर प्रश्न कर रही है

    गंगा आज फिर प्रश्न कर रही है

    आज गंगा दशहरा है। गंगा दशहरा मतलब ऐतिहासिक तौर पर गंगा अवतरण की तिथि; पारम्परिक रूप में स्नान का अवसर; उत्सव रूप में गंगा आरती का पर्व।

Back to Top