आप यहाँ है :

पाठक मंच
 

  • जन दबाव से झुका चर्च प्रशासन आरएल फ्रांसिस

    पुअर क्रिश्चियन लिबरेशन मूवमेंट ने उन लाेगाें की तरीफ की है जाे कैथोलिक चर्च के भारी दबाव के बावजूद एकजुट होकर ननों काे न्याय दिलाने

  • संवाद काे नकारती कैथोलिक बिशप कॉन्फ्रेंस

    फ्रांसिस ने कहा था कि हम पहले भी ऐसे तबादलों के परिणाम देख चुके है, जिसका एकमात्र उद्देश्य पीड़ित काे दुर्बल करना, उसे अपमानित करना और उसके मनाेबल काे ताेड़ना ही हाेता है।

  • भारतीय स्टेट बैंक द्वारा राष्ट्रपति के आदेशों का खुला उल्लंघन

    भारतीय स्टेट बैंक द्वारा राष्ट्रपति के आदेशों का खुला उल्लंघन

    लगता है कि स्टेट बैंक के मुख्यालय में पदासीन राजभाषा अधिकारी को राजभाषा सम्बन्धी किसी भी प्रावधान का ज्ञान है इसलिए

  • “गई पढ़ाई पानी में…..”

    आज कल मैं अंतर्राष्ट्रीय पर्यटन नगरी खजुराहो में श्रमदान हथकरघा के विक्रय केंद्र में हूँ।सोचा था कि स्नातक और बीएड पर्यन्त अंग्रेजी विषय की पढ़ाई की,

  • अमिताभ बच्चन और आमिर खान के लिए “खुला पत्र ”

    यह आपके लिए विशेष रूचिकर होगा कि मुंबई फिल्म उद्योग के अनेक हेयर स्टाइलिस्ट, मेक-अप कलाकार,

  • ये सरकार अँग्रेजी की इतनी गुलाम क्यों है

    बैंक की सभी ऑनलाइन सेवाएँ और ऑनलाइन फॉर्म भी केवल अंग्रेजी में बनाए गए है,

  • दिल्ली इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर हिंदी की दुर्दशा

    इस महत्वपूर्ण विषय पर आप सभी प्रतिक्रिया और सहयोग अपेक्षित है, दोनों पीडीएफ फाइल खोलकर पढ़ें. हो सके तो इस विषय को समाचार माध्यमों में प्रकाशित करें.

  • देश की सरकार को कोई सुझाव देना हो तो अंग्रेजी सीखिये

    पाठक मंच देश की सरकार को कोई सुझाव देना हो तो अंग्रेजी सीखिये प्रवीण जैन महोदय, विद्यालयीन शिक्षा और साक्षरता विभाग, मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने पहली से बारहवीं कक्षा की पाठ्यचर्या और पाठ्यक्रम के लिए आम जनता से सुझाव मंगवाए हैं http://mhrd.gov.in/suggestions/ और उसकी अंतिम तिथि 6 अप्रैल 2018 निर्धारित है पर शायद विद्यालयीन […]

  • बाबा रामदेव का नकली हिंदी प्रेम

    महोदय, हम करोड़ों लोगों की बाबा रामदेव पर श्रद्धा है, उनके स्वदेशी व स्वभाषा आंदोलन से लगभग 25 वर्षों से जुड़े हुए हैं पर अब यह भ्रम टूट गया है। बाबा जी, उनकी कंपनी को न स्वदेशी से कोई मतलब है न स्वभाषा से। पतंजलि की सभी वेबसाइट व ऑनलाइन सेवाएँ केवल अंग्रेजी में ही […]

  • लोकल जमीन पर, टिकट घर ऊपर

    लोकल जमीन पर, टिकट घर ऊपर

    वसई रोड स्टेशन पर एक नंबर प्लेटफॉर्म से मुंबई की ओर जाने वाली कई लोकल ट्रेनें खुलती है । इससे वसई वासियों की यात्रा का कष्ट थोड़ा कम हो जाता है । पर इसमे सबसे बड़ी दिक्कत यह है कि यात्री को टिकट लेने के लिए 1 नंबर प्लेटफॉर्म के ऊपर कि ओर बने टिकट घर की ओर जाना पड़ता है । पहले यह टिकट घर 1 नंबर प्लेटफॉर्म के बाहर ही था । उसे बंद कर अब टिकट घर ऊपर बना दिया गया है । यहाँ से पहली गाड़ी सुबह 5.55 पर खुलती है । वसई वेस्ट आनंद नगर की तरफ से आने वाले यात्रियों को पहले टिकट लेने ऊपर के टिकट घर की ओर जाना पड़ता है । सुबह की गाड़ी पकड़ने की जल्द बाजी में यात्री दौड़ भाग कर किसी प्रकार गाड़ी के समय तक तो पहुच जाता है पर टिकट घर तक आने जाने में बहुत समय बरबाद होता है । वैसे ऊपर जाने के लिए लिफ्ट है पर वो अधिकतर बंद रहती है जिसकी शिकायत कई बार कर चुके है । खासकर बुजुर्गो व महिलाओं को अधिक तकलीफ होती है जबकि यहाँ से महिला स्पेशल ट्रेन भी खुलती है । रेल्वे अधिकारियों से निवेदन है की एक छोटा टिकट घर प्लेटफॉर्म नंबर 1 के पास भी खोले ।

Back to Top