आप यहाँ है :

पर्यटन
 

  • संस्कृत रॉकबैंड ने धूम मचाई

    एक तरफ जहां केंद्र सरकार भारत की प्राचीनतम भाषा संस्कृत को लोगों के बीच लोकप्रिय बनाने के प्रयासों में जुट रही है, वहीं मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल के कुछ युवा भी इस कार्य में अपना योगदान देने आगे आए हैं।  भोपाल के कुछ संस्कृत प्रेमी युवाओं ने रॉकबैंड 'ध्रुवा' बनाया है। देश में अपनी तरह […]

  • उज्जैन सिंहस्थ में आने वाले विदेशी पर्यटक घरों में ठहरेंगे

    सिंहस्थ के दौरान उज्जैन आने वाले विदेशी सैलानियों को भारतीय संस्कृति, भारतीय परिवार और रहन-सहन से परिचित कराया जाएगा। इसके लिए मप्र पर्यटन विकास निगम विदेशी सैलानियों के ठहरने की सुविधा के लिए 'होम स्टे योजना शुरू कर रहा है। इसके तहत पर्यटकों को होटल, मोटल से अलग घरों में रहने की सुविधा प्रदान की […]

  • उज्जैन के सिंहस्थ के लिए 150 गाईड तैयार होंगे

    सिंहस्थ 2016 में आने वाले पर्यटकों को उज्जैन और महाकाल से जुड़ी रोचक जानकारियां ट्रेंड 150 गाइड देंगे। पर्यटन विभाग इन गाइड को प्रशिक्षित कर रहा है। इन्हें इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ टूरिज्म एंड ट्रेवल मैनेजमेंट (ग्वालियर) सर्टिफिकेट जारी करेगा। अभी 40 गाइडों को सर्टिफिकेट दिए जा चुके हैं। यह घोषणा पर्यटन विकास निगम के प्रबंध […]

  • ‘पधारो रोशन भारत मे’ – पर्यटको को न्योता

    अंतराष्ट्रीय जगत में भारत की नई रोशन होती छवि की पृष्ठभूमि में सरकार  ने चर्चित "मेक इन इंडिया" के अपने कार्यक्रम की तरह देश विदेश के पर्यटकों को "वेलकम टु इन्क्रेडिबल इंडिया" यानि "पधारो इस रोशन भारत में" का न्यौता दिया है। "स्वच्छ भारत, स्वच्छ स्मारक और स्वच्छ पर्यटन" की इस मुहिम के तहत  ताजमहल, […]

  • म.प्र. पर्यटन विकास विभाग की अनूठी पहल

    भोपाल. प्रदेश के पर्यटन काे बढ़ावा देने के लिए मध्यप्रदेश पर्यटन विकास निगम (एमपीटीडीसी) और भारतीय रेलवे केटरिंग (आईआरसीटीसी) मिलकर प्रयास करेंगे। दोनों कंपनियों के साझा प्रयासों से प्रदेश में पर्यटक ढाबे, स्वागत केंद्र और बजट होटल्स का निर्माण किया जाएगा। यहां आने वाले पर्यटक अपने रुकने, खाने और ट्रेवल के लिए दोनों कंपनियाें के […]

Back to Top