ताजा सामाचार

आप यहाँ है :

दिल की कलम से
 

  • आतंकवाद के लिए अमरीका भी कम गुनाहगार नहीं

    आतंकवाद के लिए अमरीका भी कम गुनाहगार नहीं

    अमरीका के वर्ल्ड ट्रेड सेंटर पर हुए विनाशकारी हमले को आज सोलह साल का समय बीत गया है. इस घटना को मीडिया ने इतनी बार दिखाया है कि य़े वाक्या हमारे मानस पटल पर अंकित हो चुका है और हालांकि विश्व में कई आंतकवादी घटनाएं लगभग रोज़ घटित हो रहीं हैं

  • आनंद और आध्यात्मिकता के प्रतीक : कृष्ण

    आनंद और आध्यात्मिकता के प्रतीक : कृष्ण

    The symbol of happiness and spirituality: Krishna

  • निर्मम बैंक व्यवस्था

    निर्मम बैंक व्यवस्था

    कंप्यूटर युग में, जब हर शाम भारतीय रिज़र्व बैंक को सम्पूर्ण बैंकिंग उद्योग के आंकड़े मिल जाते हैं, ऐसे में नोट्बंदी के छह महीने बाद सरकार की ये दलील कि पुराने नोट अभी भी गिने जा रहे हैं

  • आम आदमी : व्यवस्था का मोहरा

    आम आदमी : व्यवस्था का मोहरा

    हमारे देश में जिसे देखो आम आदमी की चिंता से ग्रसित है. नेता हो या अभिनेता, सरकारी अधिकारी हो या कर्मचारी, मिल मालिक हों या साहूकार, डाक्टर हो या कसाई, हर कोई आम आदमी के जीवन स्तर को सुधारने में प्रयासरत है.

ईमेल सबस्क्रिप्शन

PHOTOS

VIDEOS

Back to Top