आप यहाँ है :

पुस्तक चर्चा
 

  • आतंकियों के चुंगल से भागी यजीदी लड़की खौफनाक दास्तान

    आतंकियों के चुंगल से भागी यजीदी लड़की खौफनाक दास्तान

    इस्लामिक स्टेट आॅफ ईराक के आतंकियों द्वारा किस कदर छोटी-छोटी लड़कियों और महिलाओं का सेक्स स्लेव्स के तौर पर उपयोग किया जाता है कि इस बात का पता 18 वर्ष की यजीदी लड़की की कहानी सुनकर लगता है।

  • अटलजी के सहयोगियोंं के यादगार संस्मरणों का दस्तावेज

    अटलजी के सहयोगियोंं के यादगार संस्मरणों का दस्तावेज

    भारतीय राजनीति में 60 के दशक में चीन के आक्रमण के बाद पंडित नेहरू को संसद के अंदर जिस तेजस्वी युवा की दहाड़ ने निरुत्तर किया था और जिन्हें नेहरू ने भारत का भविष्य का प्रधानमंत्री बताया था- वह अटल बिहारी वाजपेयी पूरे 50 वर्ष भारतीय राजनीति में सर्वमान्य और लोकप्रिय व्यक्तित्व बने रहे।

  • अरविंद तुकांत कोश से घर बैठे कवि बन कविता लिखिए

    अपने जून मेँ छपने वाले अरविंद तुकांत कोश के बारे मेँ उस की अपनी भूमिका मेँ से कुछ अंश दे रहा हूँ. प्रकाशक है मेरी अपनी कंपनी – अरविंद लिंग्विस्टिक्स प्रा लि, ई-28 (प्रथम तल), कालिंदी कालोनी, नई दिल्ली – 110065 – संपर्क मीता लाल) अरविंद तुकांत कोश वाचिक कविता करने वालों के काम का तो है ही, प्रयोगवादी छंदमुक्त कविता, रेडियो जिंगल, टीवी विज्ञापनों और फ़िल्म […]

  • मीराँ स्त्रियों के स्वाभिमान की प्रतीक हैः नामवर सिंह

    ‘रंग राची’ घी का लड्डू हैःविश्वनाथ त्रिपाठी इस उपन्यास में इतिहास के साथ न्याय हुआ हैः सत्यनारायण समदानी नई दिल्ली/ मीराँबाई की संघर्ष-यात्रा को केन्द्र में रखकर लिखे गए उपन्यास ‘रंग राची’ का लोकार्पण साहित्य अकादमी सभागार, मंडी हाउस में किया गया। यह उपन्यास लोकभारती प्रकाशन से प्रकाशित हुआ है। इस मौके पर अपने अध्यक्षीय […]

  • …और पॉयलट बनते-बनते रह गए थे डॉ. कलाम

    मिसाइल मैन के तौर पर पहचान बनाने वाले पूर्व राष्ट्रपति ए.पी.जे. अब्दुल कलाम पायलट बनना चाहते थे, मगर वह अपने सपने के एकदम करीब पहुंचकर चूक गए थे। इंडियन एयरफोर्स में उस वक्त 8 जगहें खाली थीं और इंटरव्यू में कलाम का नंबर नौवां आया था। कलाम ने इस बात का जिक्र अपनी किताब 'माइ […]

  • राष्ट्रपति बनने तक का डॉ. कलाम का सफर, उनकी ही जुबानी

    स्व.अवुल पाकिर जैनुलाब्दीन अब्दुल कलाम ने  अपनी पुस्तक टर्निंग प्वाइंट्स: ए जर्नी थ्रू चैलेंजेज में उन्होंने इस बात का जिक्र किया है कि वह कैसे भारत के 11वें राष्ट्रपति बनें। उन्होंने लिखा है कि अन्ना विश्वविद्यालय के सुंदर वातावरण में 10 जून 2002 की सुबह और दिनों की तरह ही थी, जहां मैंने दिसम्बर 2001 […]

  • मीराबाई के जीवन-संघर्ष को बयां करती पुस्तक ‘रंग राची’ का लोकार्पण 27 जुलाई को

    नई दिल्ली.मीराँबाई की संघर्ष-यात्रा को केन्द्र में रखकर लिखे गए उपन्यास ‘रंग राची’ का लोकार्पण 27 जुलाई, सोमवार को शाम पांच बजे साहित्य अकादमी सभागार में किया जाएगा। कार्यक्रम की अध्यक्षता वरिष्ठ आलोचक नामवर सिंह करेंगे। मुख्य अतिथि विश्वनाथ त्रिपाठी तथा विशिष्ट अतिथि सत्य नारायण समदानी के साथ-साथ सुप्रसिद्ध कथाकार चंद्रकांता व सुप्रसिद्ध कवयित्री अनामिका, […]

  • पुस्तक “दी ट्राइस्ट बिट्रेड ; रिफ्लेक्शन्स ऑन डिप्लोमेसी एण्ड डेवलपमेंट” के पेपर बेक संस्करण का लोकार्पण

    समय से  आगे सोचने वाले कूटनीतिज्ञ एवं भविष्य भांप लेने वाला दूरद्रष्टा थे जगत मेहता   उदयपुर 16 जुलाई, पूर्व विदेश सचिव पद्मभूषण स्व.  जगत मेहता के तिरानवे वे जन्मदिवस के अवसर पर उनकी लिखी  पुस्तक “दी ट्राइस्ट बिट्रेड ; रिफ्लेक्शन्स ऑन डिप्लोमेसी एण्ड डेवलपमेंट “के पेपर बेक संस्करण का लोकार्पण करते हुए उन्हें भावभीनी […]

  • आपातकाल के कुछ काले किस्से

    पत्रकार कूमी कपूर ने अपनी किताब 'द इमर्जेंसी, अ पर्सनल हिस्ट्री' में संजय गांधी की कार परियोजना के बारे में बहुत गहरी जानकारी दी है। आपातकाल की भयावहता को दोहराते वक्त अधिकांश टीकाकारों ने देश के इतिहास में विकृत पूंजीवाद और भ्रष्टाचार की सबसे निर्लज्ज मानी जा सकने वाली एक दास्तान की अनदेखी कर दी। […]

  • दादा गुरुदेव के स्वर्गारोहण महोत्सव पर गूंजेंगी भक्ति गीतों की स्वर लहरियाँ

    गौरवशाली आयोजन की भव्य तैयारी राजनांदगाँव। श्रमण संस्कृति की विश्व विभूति, जंगम युग प्रधान, प्रथम दादा गुरुदेव श्री जिनदत्त सूरि जी महाराज साहब का 861 वां स्वर्गारोहण महोत्सव संस्कारधानी में उत्साह पूर्वक मनाया जाएगा। दादा श्री जिनदत्त सूरि सेवा संघ ट्रस्ट की दिव्य परंपरा के अनुरूप इस वर्ष भी अखिल भारतीय भक्ति गीत स्पर्धा सहित […]

Back to Top