ताजा सामाचार

आप यहाँ है :

राजनीति
 

  • राहुल की राजनीति आधारहीन आरोपों की गंदगी उछालना

    राहुल की राजनीति आधारहीन आरोपों की गंदगी उछालना

    शिकार है। यह जानते हुए भी कि राहुल और उनके रणनीतिकार आधारहीन आरोपों की गंदगी उछालने की गैरजिम्मेवार राजनीति से बाज नहीं आने वाले हमारा सुझाव होगा कि जरा ठहरकर सोचें कि

  • शीला दीक्षित की नयी जिम्मेदारी की चुनौतियां

    शीला दीक्षित की नयी जिम्मेदारी की चुनौतियां

    शीला दीक्षित का दिल्ली प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष का दायित्व ग्रहण करना कांटोभरा ताज है, अनेक चुनौतियों के बीच उन्हें अपने-आपको साबित करने का मौका मिला है।

  • सांसदों के रिपोर्ट कार्ड के लिए बनी वेबसाईट

    सांसदों के रिपोर्ट कार्ड के लिए बनी वेबसाईट

    उन्होंने बताया कि यह संसदीय कार्यप्रणाली और सांसदों को उनके प्रदर्शन के आधार पर रेटिंग एवं रैंकिंग देने वाली वेबसाइट है।

  • सांसदों का अशालीन आचरण कब तक?

    सांसदों का अशालीन आचरण कब तक?

    छोटी बातों पर अभद्र एवं अशालीन शब्दों का व्यवहार, हो-हल्ला, छींटाकशी, हंगामा और बहिर्गमन आदि घटनाओं का संसद के पटल पर होना दुखद, त्रासद एवं विडम्बनापूर्ण है। इससे संसद की

  • क्या  पीडीपी ख़त्म होने के कग़ार पर है

    क्या पीडीपी ख़त्म होने के कग़ार पर है

    शम्स उन कुछ लोगों में से हैं जो यह मानते हैं कि पीडीपी का अंत हो सकता है. शम्स की ही तरह नासिर सोगामी भी मानते हैं कि पीडीपी के पास कोई विचारधारा नहीं है.

  • भाजपा को नये रास्ते बनाने होंगे

    भाजपा को नये रास्ते बनाने होंगे

    की जिम्मेदारी लेकर पद छोड़ देना चाहिए। लेकिन यह तो भविष्य की रचनात्मक समृद्धि का सूचक नहीं है। वर्तमान को सही शैली में, सही सोच के साथ सब मिलजुलकर जी लें तो विभक्तियां विराम पा जाएंगी।

  • भाजपा के लिये यही समय है जागने का

    भाजपा के लिये यही समय है जागने का

    रोजगार का मुद्दा है। रोजगार सृजन में ठहराव का यह प्रमुख कारण है। किसानों से जुड़ी समस्याओं पर भी केन्द्र सरकार को गंभीर होना होगा।

  • पक्ष एवं विपक्ष के गठबंधनों में दरारें

    पक्ष एवं विपक्ष के गठबंधनों में दरारें

    भूमिका अभी तक केवल सत्ता की सौदेबाजी तक सीमित रही है। लेकिन विचारणाीय बात है कि विश्व के सबसे बड़े लोकतंत्र भारत में अब नेतृत्व के बजाय नीतियों प्रमुख मुद्दा बननी चाहिए,

  • भाजपा के लिए सबक लेने का समय

    भाजपा के लिए सबक लेने का समय

    इन्हीं विधानसभा चुनावों में कांग्रेस ने पूर्वोत्तर भारत में अपना एकमात्र राज्य मिजोरम गंवा दिया। दस वर्षों से यहां शासन कर रही कांग्रेस के खिलाफ इस बार सत्ता विरोधी लहर इतनी तीव्र थी कि मुख्यमंत्री लल

  • गहलोत की पिक्चर तो अभी शुरू हुई है !

    गहलोत की पिक्चर तो अभी शुरू हुई है !

    राष्ट्रीय परिदृश्य़ में देखें, तो निश्चित रूप से गहलोत का कांग्रेस के अन्य वरिष्ठ नेताओं और देश के अन्य मुख्यमंत्रियों के साथ गजब का समन्वय है।

Back to Top