आप यहाँ है :

देश की पहली शादी, जहां परोसे जाएंगे प्राकृतिक आहार

अपने जायके के लिए मशहूर मध्यप्रदेश का इंदौर शहर अनोखी शादी का साक्षी बनने जा रहा है। दावा है कि यहां देश में पहली बार ऐसी शादी होने जा रही है, जिसमें परोसे जाने वाले पकवानों में प्राकृतिक खेती (आध्यत्मिक खेती) के जरिए पैदा हुए खाद्यान्न का ही इस्तेमाल किया जाएगा।

इस अनोखी दावत का आयोजन कर रही हैं इंदौर की वैशाली मालवीय, जिनके भाई राहुल मालवीय की शादी 24 जनवरी को जबलपुर में है। रिसेप्शन इंदौर में 26 जनवरी को दिया जा रहा है। इस काम में वैशाली के पति चंद्रप्रकाश प्रसाद भी भरपूर मदद कर रहे हैं।

वैशाली ने बताया कि शादी में प्राकृतिक खेती से उत्पन्न खाद्यान्नों को इकट्ठा करने के लिए हम कई महीनों से मेहनत कर रहे हैं। देशभर में ऐसे किसानों से संपर्क किया जो आध्यत्मिक खेती कर रहे हैं। इस काम में उन्हें पद्मश्री सुभाष पालेकर का बहुत सहयोग मिला।

इथोपिया में नौकरी छोड़ करने लगी खेती

वैशाली अपने पति चंद्रप्रकाश के साथ इथोपिया में अच्छी जॉब कर रही थी, लेकिन 2015 में कैंसर के कारण मां की मौत ने उन्हें झकझोर दिया। सामान्य चर्चा में डॉक्टरों ने उन्हें बताया था कि खेतों में रासायनिक खाद के अत्यधिक उपयोग के कारण कैंसर जैसी घातक बीमारियां बढ़ रही है। इस चर्चा ने वैशाली को चिंतन में डाल दिया।

पैतृक जमीन पर शुरू कर दी प्राकृतिक खेती

इथोपिया से लौटने के बाद वैशाली ने खंडवा जिले के खालवा में अपनी पैतृक जमीन पर खेती करना शुरू कर दी। बीते चार साल से वे अपने खेत में प्राकृतिक खेती ही कर रही है। सबसे खास बात ये है कि उनके खेत में सिर्फ महिलाओं को ही काम का मौका दिया जाता है।

ये होगी प्राकृतिक दावत

– तवा रोटी, तंदूरी रोटी, लच्छा पराठा, पूरी

– दाल, मिक्स वेज, हरा चना काजू, शाही पनीर, जीरा राइस

– मोहनभोग, गुलाब जामुन, काजू कतली, बासुंदी जलेबी, गाजर का हलवा

साभार- https://naidunia.jagran.com/ से



सम्बंधित लेख
 

Back to Top