आप यहाँ है :

खेल सुविधाकेन्द्रों का नाम खिलाड़ियों के नाम पर रखने का फैसला

देश के खेल नायकों को सम्मानित करने के उद्देश्य से खेल मंत्रालय ने भारतीय खेल प्राधिकरण के सभी आगामी तथा अपग्रेड किए गए खेल सुविधाकेन्द्रों का नाम विख्यात एथलीटों, जिन्होंने भारत में खेलों में योगदान दिया है, के नाम पर रखने का फैसला किया है।

पहले चरण में, लखनऊ में राष्ट्रीय उत्कृष्टता केन्द्र (एनसीओई) में नवनिर्मित वातानुकूलित कुश्तीबाजी कक्ष एवं शिक्षार्थी स्विमिंग पूल, एनसीओई भोपाल में सौ बेड वाला छात्रावास, एनसीओई सोनीपत में बहुद्देशीय सभा कक्ष एवं बालिका छात्रावास तथा गुवाहाटी में नये एसटीसी, जिसमें एक छात्रावास, बहुद्देशीय सभा कक्ष एवं स्टाफ क्वार्टर हैं, का नाम स्थानीय विख्यात खिलाड़ियों के नाम पर रखा जाएगा।

केन्द्रीय युवा मामले एवं खेल मंत्री श्री किरेन रिजिजू ने इस निर्णय के बारे में कहा, “देश में खेल संस्कृति के निर्माण के लिए, यह महत्वपूर्ण है कि हमारे खिलाड़ियों को वह सम्मान प्राप्त हो, जिससे वे हकदार हैं, क्योंकि केवल तभी युवा पीढ़ी करियर के रूप में खेल को चुनने के लिए उत्साहित होंगे। सरकार पहले ही यह सुनिश्चित करने के लिए कि उन्हें आरामदायक और गरिमापूर्ण जीवन प्राप्त हो, वर्तमान एवं पूर्व एथलीटों को भी सभी प्रकार की सहायता पहले से ही उपलब्ध करा रही है। उनके नाम पर खेल सुविधाकेन्द्रों का नाम रखने के द्वारा खेलों के प्रति उनके योगदान को स्वीकार करना सरकार की खिलाड़ियों के प्रति उसकी प्रतिबद्धता को सुदृढ़ करने का एक और प्रयास है।”

image_pdfimage_print


Get in Touch

Back to Top