आप यहाँ है :

गीता और कुरान का अंतर

जिस आदमी ने श्रीमदभगवद गीता का पहला उर्दू अनुवाद किया वो था मोहम्मद मेहरुल्लाह!
बाद में उसने सनातन धर्म अपना लिया!

पहला व्यक्ति जिसने श्रीमदभागवद गीता का अरबी अनुवाद किया वो एक फिलिस्तीनी था अल फतेह कमांडो नाम का!
जिसने बाद में जर्मनी में इस्कॉन में शामिल हुआ और अब हिन्दू है!

पहला व्यक्ति जिसने गीता का अंग्रेजी अनुवाद किया उसका नाम चार्ल्स विलिक्नोस था! सने भी बाद में हिन्दू धर्म अपना लिया उसका तो यह तक कहना था कि आने वाले सम में दुनिया मे केवल हिंदुत्व ही बचेगा!

गीता का हिब्रू में अनुवाद करने वाला व्यक्ति बेजासिशन ले फनाह (Bezashition le fanah) नाम का इज़रायली था जिसने बाद में भारत मे आकरहिंदुत्व अपना लिया था !

पहला व्यक्ति जिसने गीता का रूसी भाषा मे अनुवाद किया उसका नाम था नोविकोव जो बाद में भगवान कृष्ण का भक्त बन गया!

आज तक 283 बुद्धिमानों ने श्रीमद भगवद गीता का अनुवाद किया है अलग अलग भाषाओं में जिनमें से 58 बंगाली, 44 अंग्रेजी, 12 जर्मन, 4 रूसी, 4 फ्रेंच, 13 स्पेनिश, 5 अरबी, 3 उर्दू और अन्य कई भाषाएं थी!

जिस व्यक्ति ने कुरान को बंगाली में अनुवाद किया उसका नाम गिरीश चंद्र सेन था! लेकिन वो इस्लाम मे नहीं गया शायद इसलिए कि वो इस अनुवाद करने से पहले उन्होंने श्रीमद भागवद गीता पढ़ ली थी। ये है सनातन धर्म और इसके धार्मिक ग्रंथों की ताकत।

image_pdfimage_print


सम्बंधित लेख
 

Back to Top