आप यहाँ है :

दिग्विजय कालेज के हिन्दी विभाग का विधानसभा और पुरखौती मुक्तांगन में शैक्षणिक भ्रमण

राजनांदगांव। छत्तीसगढ़ विधानसभा, पुरखौती मुक्तांगन और छत्तीसगढ़ विज्ञान सेंटर का शैक्षणिक भ्रमण कर शासकीय दिग्विजय स्नातकोत्तर महाविद्यालय के हिन्दी साहित्य के विद्यार्थियों ने प्रदेश के चुनिंदा गौरव स्थलों का परिचय प्राप्त किया। प्राचार्य डॉ.आर.एन.सिंह के मार्गदर्शन में हिन्दी विभागाध्यक्ष प्रो श्रीमती चन्द्रज्योति श्रीवास्तव, डॉ.चन्द्रकुमार जैन, डॉ श्रीमती बी.एन. जागृत और डॉ.नीलम तिवारी के साथ पीजी स्तर के चालीस छात्र-छात्राओं ने अपनी लगनशील भागीदारी से इस यात्रा के उद्देश्य को सफल बनाया। यात्रा से विद्यार्थी प्रसन्न हुए और उन्होंने बहुत कुछ नया जाना और सीखा।

उक्त जानकारी देते हुए डॉ.चन्द्रकुमार जैन ने बताया कि इस तरह की शैक्षणिक यात्रा संस्था में विद्यार्थियों के व्यावहारिक ज्ञान के साथ-साथ समाज और परिवेश से उनके व्यापक सरोकार के पथ प्रदर्शन में अहम भूमिका निभाती है। विभाग के विद्यार्थियों ने इसे प्रत्यक्ष महसूस किया। विधानसभा में बजट सत्र की तैयारियों का जायजा लेने के अलावा सत्र के लिए सुसज्ज दीर्धा, मानव विकास और राष्ट्रीय परिदृश्य के ऐतिहासिक विकास का अवलोकन, कांफेंस हाल और विधानसभा के सुन्दर, सुव्यवस्थित व समृद्ध पुस्तकालय और उद्यान को निहारकर भ्रमण दल अभिभूत हो गया। मौके पर विधानसभा के अवर सचिव ने प्रतिनिधि प्राध्यापकों से भेंट कर खुशी जाहिर की और उन्हें विशेष अवसर पर ख़ास तौर पर आमंत्रित भी किया। मार्गदर्शन कर रहे विधानसभा के सहयोगी राजेश चौहान ने परिसर की विशेषताओं और बजट सत्र की विशेष तैयारियों के साथ-साथ विधानसभा की कार्यवाही के दौरान बैठक व्यवस्था और उसकी महत्ता की जानकारी साझा की।

विद्यार्थियों ने यह भी जाना कि विधानसभा में राज्यपाल जी का विशेष सम्बोधन कब होता है। विद्यार्थी अध्यक्ष के साथ-साथ पक्ष, प्रतिपक्ष, मीडिया और दर्शक दीर्घा की बैठक व्यवस्था से परिचित हुए। परिसर में मौजूद जन प्रतिनिधियों से मुलाकात भी की। इस अवसर पर विद्यार्थियों ने प्रश्न भी किये जिनका समाधान गाइड के साथ-साथ प्राध्यापकों ने भी किया। पुरखौती मुक्तांगन में विद्यार्थियों ने नया रायपुर के विकास के अलावा छत्तीसगढ़ के सांस्कृतिक गौरव का परिचय प्राप्त किया। डॉ.चन्द्रकुमार जैन संस्कृति विभाग के संचालक श्री राकेश चतुर्वेदी को दिग्विजय कालेज के भ्रमण दल के आगमन की विशेष जानकारी दी जिस पर उन्होंने खुशी जाहिर की। अंत में विभागाध्यक्ष श्रीमती चन्द्रज्योति श्रीवास्तव ने विद्यार्थियों को यात्रा अनुभव लिखने की प्रेरणा देते हुए सहयोगियों को धन्यवाद दिया।

image_pdfimage_print


सम्बंधित लेख
 

Back to Top