ताजा सामाचार

आप यहाँ है :

संगीत के ज़रिये समाज सेवा की साधना करता पश्चिम रेल परिवार का युवा संगीतकार श्री तुषार लाल

मुंबई के वंचित बच्चों की शिक्षा के लिए 3 लाख रु. जुटाये

मुंबई।संगीत को अपने आप में एक कठिन साधना माना जाता है और सात सुरों की सच्ची आराधना करने वाले के अंतर्मन को एक सुखद अनुभूति का आध्यात्मिक स्पर्श मिलता है। अगर संगीत की साधना के ज़रिये कोई संगीतकार समाज सेवा का पुनीत कार्य भी करता है, तो यह एक अनूठी पहल कहलाती है। ऐसी ही एक अनुकरणीय पहल करते हुए पश्चिम रेल परिवार के एक प्रतिभाशाली युवा संगीतकार श्री तुषार लाल ने अपने नये म्युजिक वीडियो के ज़रिये मुंबई की झोंपड़पट्टी के वंचित बच्चों की शिक्षा हेतु 3 लाख रु. जुटाकर एक उल्लेखनीय मिसाल पेश की है। श्री तुषार पश्चिम रेलवे के प्रमुख मुख्य वाणिज्य प्रबंधक श्री राजकुमार लाल के सुपुत्र हैं और यू ट्यूब की दुनिया के एक मेधावी संगीतकार हैं। यू ट्यूब की दुनिया के इस संगीतकार श्री तुषार लाल ने मुंबई की झोपड़पटी के वंचित गरीब बच्चों की शिक्षा एवं विकास के लिए हाल ही में अपने नये म्युज़िक वीडियो ‘जस्टिस लीग’ में उनसे कार्य कराकर पूरी दुनिया से 3 लाख रुपये से अधिक की राशि एकत्रित की है। यह वीडियो विश्व प्रसिद्ध डीसी यूनिवर्स मूवी ‘जस्टिस लीग’ का भारतीय रूपांतरण है और इसे यूट्यूब पर एक लाख से ज्यादा दर्शकों ने देखा है। श्री तुषार लाल यूट्यूब पर विख्यात इंडियन ‘जैम’ ग्रुप के संस्थापक हैं।

श्री तुषार और उनकी टीम ने यह वीडियो चार दिनों की अवधि में असल्फा झोंपड़पट्टी के गरीब बच्चों एवं परिवारों के साथ दोस्ती कर उनकी दैनिक समस्याओं एवं संघर्षों को अच्छे से समझकर फिल्माया है। साथ ही इन्होंने प्रसिद्ध म्युजिक नेटवर्क ‘क्यूँकि’ के साथ संयुक्त रूप से प्रयास करते हुए चैरिटी के लिए एक वेबसाइट का निर्माण किया, जिसके माध्यम से दान की अपील की गई, ताकि इस झोपड़पट्टी के गरीब एवं वंचित बच्चों की पढ़ाई एवं विकास के लिए सहायता उपलब्ध कराई जा सके। इस अभूतपूर्व सामाजिक प्रयास के लिए दुनिया भर से बहुत अच्छी प्रतिक्रियाएँ आई हैं और न केवल यह वीडियो यूट्यूब पर लोकप्रिय हो रहा है, बल्कि यह किसी नये कलाकार द्वारा किया गया एक अनूठा सफल प्रयास माना जा रहा है। यूट्यूब पर 2 करोड़ से ज्यादा बार लोगों के देखे जाने के बाद श्री तुषार लाल यूट्यूब के उन ख्याति प्राप्त कलाकारों में से एक बन चुके हैं, जिन्होंने एक के बाद एक कई उत्कृष्ट प्रदर्शन किये। इस प्रयास से उन्होंने अपने संगीत को एक बहुत अच्छे सामाजिक सरोकार से जोड़ा है, जिसके माध्यम असल्फा की झोपड़पट्टी में रहने वाले गरीब बच्चों की पढ़ाई एवं उनको सशक्त बनाने के लिए सहायता दी जा रही है। इस अनूठी पहल के लिए तुषार की सभी जगह बहुत प्रशंसा हो रही है। श्री तुषार लाल का अगला संगीत वीडियो ‘सिफर’ जल्द ही रिलीज होने वाला है, जिसका यूट्यूब के लाखों दर्शकों को बेसब्री से इंतजार है।



सम्बंधित लेख
 

Back to Top