ताजा सामाचार

आप यहाँ है :

लंदन से आई फेसबुक दोस्त ने मुंबई वाले को ऐसे लूट लिया

नई दिल्‍ली: लंदन में रहने वाली गर्लफ्रेंड के भारत आगमन की खबर सुनने के बाद समीर की खुशी का ठिकाना नहीं था. करीब एक साल के इंतजार के बाद उसकी गर्लफ्रेंड पहली बार उससे मिलने के लिए इंडिया आने वाली थी. इतना ही नहीं, अपनी मुलाकात को यादगार बनाने के लिए उसकी गर्लफ्रेंड समीर के लिए लंदन से बहुत सारे कीमती तोहफे भी लाने वाली थी. एक रात पहले फेसबुक पर हुई चैटिंग में उसकी गर्लफ्रेंड ए‍लीना ने बताया था कि वह अगली सुबह दिल्‍ली एयरपोर्ट पहुंचेगी, वहां से वह डोमेस्टिक फ्लाइट लेकर दोपहर तक मुंबई पहुंच जाएगी.

अपनी गर्लफ्रेंड की पहली इंडिया विजिट को बेहद खास बनाने के लिए समीर ने आनन फानन सारी तैयारियां पूरी कर ली थी. मुश्किल से कटी रात के बाद वह सुबह भी आ गई, जब समीर की विदेशी गर्लफ्रेंड की फ्लाइट दिल्‍ली के आईजीआई एयरपोर्ट पर लैंड हो गई. दिल्‍ली पहुंचने के बाद एलीना ने समीर को फोन कर आईजीआई एयरपेार्ट पहुंचने की खुशखबरी थी. उसने बताया कि वह अगले तीन से चार घंटों में मुंबई पहुंच जाएगी. अपनी विदेशी गर्लफ्रेंड के पहले दीदार और उसे रिसीव करने के लिए समीर अपने घर से मुंबई एयरपोर्ट के लिए निकल गया.

वह रास्‍ते में था, तभी उसकी विदेशी गर्लफ्रेंड एलीना का दोबारा फोन आया. इस बार एलीना की आवाज थोड़ा घबराई हुई थी. फोन पर उसने समीर को बताया कि वह लंदन से अपने साथ 40 हजार पाउंड भी लेकर आई थी. जिसके चलते दिल्‍ली एयरपोर्ट पर कस्‍टम के अधिकारियों ने उसे पकड़ लिया है. कस्‍टम के अधिकारी उससे कस्‍टम ड्यूटी के नाम पर 24 हजार रुपए मांग रहे हैं. उसने बताया कि उसके पास इंडियन करेंसी नहीं है. वह उसकी मदद करे. मुंबई पहुंचने के बाद वह उसकी पाई पाई चुका देगी. अपनी गर्लफ्रेंड को मुसीबत में फंसा देख समीर बेचैन हो उठा.

उसने एलीना को भरोसा दिलाया कि वह परेशान न हो, वह कुछ ही मिनटों ने उसे रुपए भेज देगा. एलीना ने उसे एक एकाउंट नंबर देकर 24 हजार रुपए बैंक ट्रांसफर करने के लिए बोला. एनीला के मोहमाश में फंसे समीर ने बिना देरी किए बताए गए बैंक एकाउंट में 24 हजार रुपए ट्रांसफर कर दिए. बात यहीं पर खत्‍म नहीं हुई. कुछ देर बार फिर एलीना का फोन आया. उसने बताया कि कस्‍टम अधिकारी कह रहे हैं कि उसके लिए इतनी बड़ी रकम लेकर मुंबई जाना सुरक्षित नहीं है. वह उसे अपने किसी जानकार के बैंक एकाउंट में ट्रांसफर कर दे.

लिहाजा, वह अपना बैंक एकाउंट की डीटेज दे दे, जिससे वह अपने पाउंड उसके एकाउंट में ट्रांसफर कर सके. एलीना का प्रस्‍ताव सुनकर समीर की खुसी का ठिकाना नहीं रहा. उसे लगा कि उसकी गर्लफ्रेंड आज तक उससे एक बार भी नहीं मिली है, बावजूद इसके वह उसके ऊपर भरोसा कर अपनी पूरी रकम उसके एकाउंट में ट्रांसफर कर रही है. उसे यह भी लगा कि पहली बार उसे एकाउंट में एक साथ 40 हजार पाउंड यानी करीब 36 लाख रुपए आने वाले हैं. समीर ने बिना देरी किए अपनी बैंक डीटेल एलीना को भेज दी.

बैंक डीटेल भेजने के कुछ देर बार समीर के पास एलीना का फिर फोन आया, उसने कहा कि बैंक एकाउंट में पाउंड ट्रांसफर करने के लिए उसे करीब 1 लाख रुपए बतौर ट्रांसफर एण्‍ड ट्रांजेंक्‍शन फीस चुकानी होगी. एलीना ने समीर से बोला कि वह इस ट्रांजेंक्‍शन एण्‍ड फीस को अभी जमा करा दे. समीर इसके लिए भी राजी हो गया. उसने एलीना पर भरोसा कर यह रकम भी बताए गए बैंक एकाउंट में जमा करा दी. रुपए जमा होते ही एलीना का फोन स्विच ऑफ हो गया. अभी तक समीर को अपने रुपयों से ज्‍यादा अपनी गर्लफ्रेंड की चिंता थी.

उसे लगा कि उसकी गर्लफ्रेंड किसी मुसीबत में है. इसी चिंता में डूबे समीर ने दिल्‍ली में रहने वाली एक महिला पत्रकार मित्र को कॉल किया और अपनी गर्लफ्रेंड की मदद करने की गुहार लगाई. महिला पत्रकार ने भी अपने दोस्‍त की मदद के लिए तत्‍परता दिखाई. उसने तत्‍काल, एयरपोर्ट पर तैनात अपने जानकार कस्‍टम अधिकारियों से संपर्क किया. पूरा वायका बयान करने के बाद कस्‍टम अधिकारियों की तरफ से जो बात कही गई, वह सुनकर महिला पत्रकार के पैरों तले जमीन खिसक गई. कस्‍टम अधिकारी ने महिला पत्रकार को कुछ सवाल समीर से पूछने के लिए कहा.

कस्‍टम अधिकारी ने इन सवालों के जवाब भी पहले ही बता दिए और कहा कि समीर के जवाब इन जवाबों से मेल खाते हैं तो आप तय मानिए कि आपका दोस्‍त एक इंटरनेशनल रैकेट के चंगुल में फंस चुका है. महिला पत्रकार ने तत्‍काल फोन कर अपने दोस्‍त मनीष से वह सवाल पूछें. वह यह सुनकर दंग रह गई कि जो जवाब कस्‍टम अधिकारी ने बताए थे, बिल्‍कुल हू ब हू वही जवाब समीर भी दे रहा था. जिसके बाद महिला पत्रकार ने समीर को पूरी कहानी समझाई. समीर ने महिला पत्रकार को बातचीत के दौरान यह बताया कि उसकी एलीना से पहली मुलाकात फेसबुक पर हुई थी.

फेसबुक पर ही दोस्‍ती हुई और फेसबुक पर ही प्‍यार हुआ. उनका ऑन लाइन प्‍यार करीब एक साल तक चला. जिसके बाद, एनीला ने इंडिया आने की बात कही. वहीं इस पूरे घटनाक्रम पर कस्‍टम अधिकारी ने बताया कि ठगों का एक अंतरराष्‍ट्रीय गिरोह है. इस गिरोह की लड़कियां फेसबुक पर अपनी फेक प्रोफाइल के जरिए पहले फ्रेंड रिक्‍वेस्‍ट भेजती हैं. फ्रेंड रिक्‍वेस्‍ट एक्‍सेप्‍ट करते ही इनको पता चल जाता है कि शिकार फेसबुक प्रोफाइल पर लगी फोटो के झांसे में आ गया है. इसके बाद, फेसबुक मैजेंसर पर बातचीत का सिलसिला शुरू होता है.

बातचीत के दौरान लड़की इंडिया के प्रति अपना रुझान दिखाती है. इसी बातचीत के दौरान, पहले शिकार को बेस्‍ट फ्रेंड बताया जाता है, फिर प्‍यार का इजहार होता है. कुछ समय बाद लड़की इंडिया आने की बात कहती है और एयरपोर्ट पर फंसने का पूरा ड्रामा होता है. इसी तरह यह गिरोह न जाने कितने लोगों को अपना शिकार बना चुका है. इस गिरोह की एक और मोरस ऑपरेंडी है. जिसमें विदेश से गिफ्ट भेजकर कस्‍टम में फंसने की बात कह लोगों को ठगी का शिकार बनाया जाता है.

कस्‍टम और पुलिस की सलाह है कि जब तक आप किसी शख्‍स को व्‍यक्तिगत तौर पर नहीं जानते हैं, तब तक किसी तरह का रुपयों का ऑन लाइन लेन देन करें. इसके अलावा, कस्‍टम कभी भी किसी भी मुसाफिर को निजी बैंक एकाउंट में रुपए डलवाने के लिए नहीं करती है. एयरपोर्ट पर विश्‍व की सभी मुद्राए न केवल उपलब्‍ध हैं बल्कि उन्‍हें कनवर्ट कराने की भी सुविधा होती है. लिहाजा, इस तरह की किसी भी धोखाधड़ी में न फंसें.



सम्बंधित लेख
 

Back to Top