आप यहाँ है :

चार दिवसीय जागरण फिल्म स्मारोह मुंबई में आज से

मुंबई। लगभग दो महीने में देश के 17 केंद्रों का सफर तय करते हुए दुनिया का इकलौता घुमंतू फिल्मोत्सव जागरण फिल्म फेस्टिवल अपने समापन स्थल मुंबई पहुुंच चुका है। नौवें जागरण फिल्म फेस्टिवल के समापन समारोह का चार दिवसीय आयोजन गुरुवार से मुंबई में होने जा रहा है।

इस दौरान देश-विदेश की तमाम चर्चित फिल्मों के प्रदर्शन के अलावा विभिन्न हस्तियों संग विचार-विमर्श के कई सत्र आयोजित होंगे। मुंबई के अंधेरी स्थित सिनेपोलिस मल्टीप्लेक्स में सुबह 10 बजे से फिल्मों के प्रदर्शन का सिलसिला शुरू हो जाएगा।

शाम को आठ बजे विधिवत रूप से समारोह का शुभारंभ होगा, जिसमें कई जानी-मानी हस्तियां हिस्सा लेंगी और बहुचर्चित फिल्म ‘ए स्टार इज बॉर्न’ की स्क्रीनिंग होगी।

गुरुवार को दिखाई जाने वाली फिल्मों में ब्रिटिश फिल्म ‘क्लिक’, हिंदी फिल्म ‘वो अदरक वाली चाय’, सुमित मिश्रा की फिल्म ‘अगम’, अभय सिन्हा की फिल्म ‘पैदाई’, सत्यप्रकाश की फिल्म ‘नॉट वन ऑर टू’, ओनीर की फिल्म ‘कुछ भीगे अल्फाज’, ईरानी फिल्म ‘व्हेयर माय शूज’, स्पेन की फिल्म ‘हेरमिट’, आलोक कुशवाहा की फिल्म ‘वरदानियां’, विलप मजूमदार की फिल्म ‘बांसुरीवाला’, बंगाली फिल्म ‘मयूराक्षी’, निखिल अलग की फिल्म ‘शहजार’ शामिल हैं।

इस दौरान जोनाथन ऑगस्टिन की ब्रिटिश फिल्म ‘द लिफ्ट ब्वाय’ का इंडिया प्रीमियर भी होगा। बॉलीवुड में उत्साह जागरण फिल्म फेस्टिवल के मुंबई समारोह को लेकर बॉलीवुड में उत्साह का माहौल है। गदर फेम निर्देशक अनिल शर्मा कहते हैं, ‘मैं यहां कई फिल्में देखना चाहता हूं।

जागरण फेस्टिवल का अनूठापन इसे बाकी समारोह से अलग करता है।’ अभी पटना में फिल्म की शूटिंग कर रहे अभिनेता अर्जुन कपूर समारोह में हिस्सा लेने के लिए मुंबई लौटेंगे। उनका कहना है कि ये फेस्टिवल ऐसी फिल्में लाता है, जिनका इंतजार रहता है।

कश्मीर में शूटिंग में व्यस्त मनोज वाजपेयी भी इस फेस्टिवल का हिस्सा बनने के लिए मुंबई आने का मन बना रहे हैं। वे कहते हैं, ‘यह फेस्टिवल मेरी यात्रा का हिस्सा रहा है।’ चार दिन चलने वाले इस समारोह के अंतिम दिन फेस्टिवल के विजेताओं को पुरस्कृत किया जाएगा।



सम्बंधित लेख
 

Back to Top