आप यहाँ है :

गोस्वामी को मिला चित्रा सुब्रह्मण्यम का साथ

अपनी एक अलग पहचान बना चुकी वरिष्ठ महिला पत्रकार चित्रा सुब्रमण्यम अब अरनब गोस्वामी के नए वेंचर ‘रिपब्लिक’ (Republic) से संपादकीय सलाहकार के रूप में जुड़ गई हैं। चित्रा सुब्रह्मण्यम ने बोफोर्स घोटाले का खुलासा करने में अहम भूमिका निभाई थी। पहली बार चित्रा सुब्रमण्यम ने ही ये पर्दाफाश किया था कि बोफोर्स तोप की खरीदारी में कुछ लोगों को रिश्वत दी गई है। स्वीडन के पूर्व पुलिस प्रमुख स्टेन लिंडस्ट्रोम ने 1987 में चित्रा सुब्रमण्यम को बोफोर्स तोप की खरीदारी संबंधित दस्तावेज दिए थे। वे तब अंग्रेजी दैनिक ‘द हिंदू’ में कार्यरत थीं।

गोस्वामी ने अपनी टीम में सुब्रमण्यम का स्वागत करते हुए कहा कि मैं सम्मानित महसूस कर रहा हूं, क्योंकि उनके साथ काम करना गौरव की बात है। हमने उन्हें उनकी उच्च स्तरीय पत्रकारिता और ईमानदारी के लिए देखा है। हमारी एडिटोरियल टीम उनका स्वागत कर के बेहद खुश है।

अपना नई भूमिका के बारे में सुब्रमण्यम ने कहा कि अरनब और उनकी टीम के साथ जुड़ने पर मुझे बेहद खुशी है। वे युवा हैं, निडर हैं और महत्वाकांक्षी है। और इन सब चीजों के साथ मिलकर भारतीय पत्रकारिता की जा सकती है। मुझे उम्मीद है कि जो उम्मीदें उन्होंने मुझसे लगाईं हैं उस पर मैं खरी उतरुंगी।



सम्बंधित लेख
 

Back to Top