ताजा सामाचार

आप यहाँ है :

विकास रेल पहँची अरुणाचल प्रदेश में

ईटानगर। प्रधानमंत्री ने रिमोट कंट्रोल से नहारलागून और नई दिल्ली के बीच एसी एक्सप्रेस ट्रेन और नहारलागून-गुवाहाटी के बीच इंटरसिटी एक्सप्रेस का शुभारंभ किया। साथ ही, अरुणाचल के नहारलागून और असम में लखीमपुर जिले के हारमुति के बीच 21.75 किलोमीटर लम्बी ब्रॉड गेज रेलवे लाइन को देश को समर्पित किया। इस मौके पर केंद्रीय रेल मंत्री श्री सुरेश प्रभु भी मौजूद थे।
बिजली प्रोजेक्ट
मोदी ने 132 किलोवॉट इलेक्ट्रिसिटी ट्रांसमिशन और डिस्ट्रिब्यूशन सिस्टम प्रोजेक्ट की आधारशिला रखी और ईटानगर वॉटर सप्लाई प्रोजेक्ट का शुभारंभ किया। उन्होंने कहा कि राज्य की राजधानी और राष्ट्रीय राजधानी को जोड़ने वाली नई ट्रेन से टूरिजम इंडस्ट्री तरक्की करेगी। हाइड्रो पावर का इस्तेमाल कर अरुणाचल प्रदेश पूरे देश को बिजली दे सकता है।
7400 करोड़ का पैकेज
मोदी ने कहा कि केंद्र ने अरुणाचल प्रदेश में रेलवे परियोजना के लिए 4200 करोड़ रुपये और पावर प्रोजेक्ट के लिए 3200 करोड़ रुपये तय किए हैं। मैं यह जानकर दुखी हूं कि राज्य की राजधानी के लोगों को सुरक्षित पानी देने में स्वतंत्र भारत को 60 साल लग गए।
जय हिंद बोलना आम चलन
मोदी ने कहा कि अरुणाचल प्रदेश देश का इकलौता राज्य है जहां लोग 'जय हिंद' बोलकर एक-दूसरे का अभिवादन करते हैं। इस मौके पर प्रधानमंत्री यहां के पारंपरिक परिधान में नजर आए। उन्होंने परंपरा को जीवंत रखने के लिए लोगों की सराहना की।
अरुणाचल को चाहिए स्पेशल पैकेज: तुकी
मुख्यमंत्री नबाम तुकी ने प्रधानमंत्री से राज्य के विकास के लिए स्पेशल पैकेज मांगा। उन्होंने कहा कि यहां टूरिजम को बढ़ावा और आम जनता को सहूलियत देने के लिए ग्रीनफील्ड एयरपोर्ट प्रोजेक्ट, कम्युनिकेशन नेटवर्क, सेफ ड्रिंकिंग वाटर, स्मार्ट सिटी, हाइड्रोपावर प्रोजेक्ट, रीजनल फिल्म और टेलीविजन इंस्टीट्यूट और कम से कम तीन स्मार्टसिटी बनाए जाने की तत्काल जरूरत है। सीएम ने कहा कि राज्य के चौतरफा विकास के लिए एम्स, आइआइटी और आइआइएम के अलावा सैनिक स्कूल भी बनाए जाने की जरूरत है।

.

image_pdfimage_print


सम्बंधित लेख
 

Back to Top