ताजा सामाचार

आप यहाँ है :

स्वास्थ्य कोरोना योद्धा टीमें कोटा-बूंदी संसदीय क्षेत्र में काम संभाल लेंगी-बिड़ला

स्वास्थ्य कोरोना योद्धा सैनिकों की टीमें जल्द ही पूरे कोटा-बूंदी संसदीय क्षेत्र में काम संभाल लेंगी। इनके पास सभी संसाधन होने से इनकी उपयोगिता और बढ़ जाएगी। कोरोना की चेन को तोड़ने में भी यह स्वास्थ्य कोरोना योद्धा सैनिका अहम भूमिका निभाएंगे। लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला के आव्हान पर अब ग्रामीण क्षेत्रों में स्वास्थ्य कोरोना योद्धा सैनिकों की टीमों का गठन प्रारंभ हो गया है।

सुकेत में स्वास्थ्य कोरोना योद्धा सैनिकों ने रविवार को घर-घर जाकर लोगों की जांच की। जिन लोगों में कोविड के लक्ष्ण नजर आए उन्हें नजदीकी स्वास्थ्य केंद्र ले जाकर डाक्टरों से परामर्श भी दिलवाया।

कोविड की चुनौती के बीच ग्रामीण क्षेत्रों में उपचार सुविधाओं की कमी हो देखते हुए पिछले दिनों लोकसभा अध्यक्ष बिरला ने नई पहल की थी। बिरला ने प्रत्येक वार्ड और गांव के स्तर पर 3 से 5 सदस्यों वाली स्वास्थ्य कोरोना योद्धा सैनिक टीमों के गठन का आव्हान किया था। इसके पीछे उद्देश्य था कि यह स्वास्थ्य कोरोना योद्धा सैनिक वार्ड और गांव की सुरक्षा करेंगे। लोगों में कोविड के प्रति जागरूकता उत्पन्न करने के साथ-साथ जिन लोगों में लक्ष्ण हैं उन्हें नजदीकी स्वास्थ्य केंद्र से उपचार हासिल करने में मदद करेंगे। जिन मरीजों की स्थिति गंभीर है उन्हें एंबुलेंस के माध्यम से जिला अस्पताल या अन्य नजदीकी अस्पताल तक पहुंचाएंगे। इन टीमों को पल्स आक्सीमीटर, थर्मोमीटर, मास्क तथा अन्य संसाधन लोकसभा अध्यक्ष की ओर से उपलब्ध करवाए जा रहे हैं।

बिरला के आव्हान पर सुकेत में 4 नर्सिंग स्टूडेंट्स के साथ स्वास्थ्य कोरोना योद्ध सैनिक टीम का गठन कर दिया गया। इन स्वास्थ्य कोरोना योद्धा सैनिकों ने रविवार से काम प्रारंभ भी कर दिया। इन लोगों ने घर-घर जाकर डिजिटल थर्मोमीट। र से लोगों के बुखार की जांच तथा पल्स आक्सीमीटर से शरीर में आक्सीजन के स्तर को नापा। स्वास्थ्य कोरोना योद्धा सैनिकों ने लोगों से घरों में रहने, मास्क पहनने तथा सामाजिक दूरी बनाए रखने को भी कहा।

सर्वे के दौरान कुछ मरीज ऐसे मिले जिनमें कोविड के लक्ष्ण थे। स्वास्थ्य कोरोना योद्धा सैनिकों ने इन लोगों को नजदीकी स्वास्थ्य केंद्र पर दिखवाया तथा उन्हें स्वास्थ्य केंद्र से दवा भी दिलवाई। जो दवाएं स्वास्थ्य केंद्र पर उपलब्ध नहीं थीं, उनकी जगह लोकसभा अध्यक्ष बिरला की ओर से मिले दवा किट में से डाक्टर से परामर्श कर दवा उपलब्ध करवाई। स्वास्थ्य कोरोना योद्धा सैनिकों ने इन मरीजों को अपना फोन नम्बर भी दिया तथा किसी भी आपातकालीन परिस्थिति में तत्काल फोन करने को कहा।

सुकेत के लोगों ने इस व्यवस्था की सराहना की है। लोगों ने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों में जहां समुचित उपचार सुविधाएं नहीं मिल रही, वहां यह स्वास्थ्य कोरोना योद्धा सैनिक संबल का काम

करेंगे। इनके पास पल्स आक्सीमीटर और थर्मोमीटर होने से ग्रामीण क्षेत्रों में आक्सीजन का स्तर और बुखार नापने में भी सहूलियत मिलेगी। यह स्वास्थ्य कोरोना योद्धा सैनिक गंभीर मरीजों को नजदीकी जिला अस्पताल पहुंचाएंगे, इस दौरान मरीजों का संबल बना रहेगा।

तालेड़ा क्षेत्र के गांवों में गठित की जा रही स्वास्थ्य कोरोनो योद्धा सैनिक टीमों के लिए कोरोना योद्धा किट रविवार को तालेड़ा पहंुच गईं। लोकसभा कैंप कार्यालय के प्रतिनिधियों ने यह किट्स तालेड़ा भाजपा मंडल अध्यक्ष राधेश्याम को सौंपे। प्रत्येक किट्स में 2 पल्स आक्सीमीटर, 2 डिजिटल थर्मोमीटर के अलावा, आवश्यक दवाओं की 25 किट, 20 एन-95 मास्क, दो सैनेटाइजर तथा 12 जोड़ी ग्लब्ज उपलब्ध करवाए गए हैं। जल्द ही वहां टीमों का गठन कर यह किट्स स्वास्थ्य कोरोनो योद्धा सैनिकों को सौंप दी जाएंगी।

image_pdfimage_print


सम्बंधित लेख
 

Back to Top