ताजा सामाचार

आप यहाँ है :

भारतीयों का मजाक उड़ाता हिंदुस्तान यूनिलीवर का घटिया विज्ञापन

रोजमर्रा की जिंदगी से जुड़े उत्पाद बनाने वाली कंपनी हिंदुस्तान यूनिलीवर (एचयूएल) को अपने एक विज्ञापन के लिए भारी विरोध का सामना करना पड़ा है. खबरों के मुताबिक कंपनी ने कुंभ मेले से जोड़कर रेड लेबल चाय का एक विज्ञापन तैयार किया है. इस विज्ञापन को उसने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर शेयर भी किया. लेकिन कुंभ मेले को परिवार द्वारा ‘बुजुर्गों को छोड़ने’ की जगह बताए जाने के लिए एचयूएल पर लोगों का गुस्सा फूट पड़ा और #BoycottHindustanUnilever ट्विटर पर ट्रेंड करने लगा.

लोगों की कड़ी प्रतिक्रिया के मद्देनजर कंपनी को संशोधित पंक्तियों के साथ इस विज्ञापन को दोबारा जारी करना पड़ा है. बदले ट्वीट में एचयूएल ने लिखा है, ‘रेड लेबल चाय हमें उन लोगों का हाथ पकड़ने के लिए प्रेरित करती है, जिन्होंने हमें वह बनाया है जो हम आज हैं. #अपनों को अपनाओ. देखिये दिल जीत जीतने वाला वीडियो.’ इससे पहले किए गए ट्वीट में एचयूएल ने लिखा था, ‘कुंभ मेला वह जगह है जहां बुजुर्गों को छोड़ दिया जाता है. क्या यह दुखद नहीं है कि हम अपनों का ध्यान नहीं रखते. #रेड लेबल हमें उनका हाथ पकड़ने को प्रेरित करता है, जिन्होंने हमें वह बनाया जो हम आज हैं. देखें, एक कठोर वास्तविकता के लिए आंखें खोल देने और दिल जीतने वाला वीडियो.’

इस बीच योग गुरु बाबा रामदेव ने भी एक ट्वीट के जरिये एचयूएल पर निशाना साधा है. इस ट्वीट में उन्होंने यह भी लिखा है, ‘ईस्ट इंडिया कंपनी से लेकर एचयूएल तक का सिर्फ एक एजेंडा रहा है. वह है भारत को आर्थिक और बौद्धिक रूप से गरीब बनाना.’ इसी ट्वीट में सवालिया लहजे में बाबा रामदेव ने आगे लिखा है, ‘हम क्यों न इनका बहिष्कार करें. इनके लिए हर चीज यहां तक कि लोगों की भावना भी किसी वस्तु से ज्यादा नहीं है. हमारे लिए हमारे माता-पिता भगवान के समान होते हैं. #हिंदुस्तान यूनिलीवर का बहिष्कार किया जाए.’

image_pdfimage_print


सम्बंधित लेख
 

Back to Top