आप यहाँ है :

मध्यप्रदेश के भाजपा महिला मोर्चा की एच आर लता का आईडिया जिसकी चर्चा मोदीजी ने की

भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कल देश में कोरोना संक्रमण से आमजन को सुरक्षित रखने एक लाख फ्रंटलाइन वर्कर्स तैयार करने की घोषणा की है । गौरतलब है कि इस योजना पर लगभग 276 करोड़ रुपए खर्च किया जाएगा । कोरोना वर्कर्स को तैयार करने एक स्पेशल कोर्स तैयार किया गया है । जिसका 22 राज्यों में 111 केन्द्रों पर प्रशिक्षण दिया जाएगा। नरेन्द्र मोदी के इस महाअभियान के तार मध्यप्रदेश से भी जुड़े हो सकते हैं ।

गौरतलब है कि मध्यप्रदेश भारतीय जनता पार्टी महिला मोर्चा की सोश्यल मीडिया प्रभारी डॉ आर एच लता ने प्रधानमंत्री कार्यालय से 6 मई को आग्रह किया था कि कोरोना का समय अनिश्चितकालीन है और उसकी स्थिति को संभालते संभालते मेडिकल स्टॉफ थक रहा है। मेरा मानना है कि परिस्थितियों को देखते हुए तुरंत ही अनगिनत कॉलेजों में चल रहे पैरा मेडिकल स्टूडेंट और नर्सिंग कॉलेज स्टूडेंट को आपातकालीन ट्रैनिंग देकर हॉस्पिटल में लगाया जाए। जैसे ट्रैनी डॉक्टरों को लगाया गया है। नहीं तो हालात एक दम नहीं संभल पाएंगे ।

कल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जैसे ही फ्रंटलाइन वर्कर्स प्रशिक्षण के महाअभियान का खाका जैसे ही प्रस्तुत किया डॉ आर एच लता का चेहरा खिल गया। उन्होंने बताया कि उन्हें 15 भी तक सूचना प्राप्त हुई थी कि उनका सुझाव विभिन्न राज्यों को प्रेषित किया जा चुका है ।

गौरतलब है कि भारत के प्रधानमंत्री आम जनता के सुझावों और उल्लेखनीय कार्यो को लेकर कई बार अपने संबोधनों में उनका जिक्र भी करते हैं । माना जा सकता है संभवतः इस सुझाव को भी संज्ञान में लेकर प्रशिक्षण अभियान का खाका तैयार किया गया हो

साभार- न्यूज़ नेशन से

image_pdfimage_print


सम्बंधित लेख
 

Back to Top