आप यहाँ है :

पत्नी घर पर बोर होती थी तो पति ने अपने ही खिलाफ चुनाव में खड़ा कर दिया

जयपुर: राजस्थान की बीकानेर (पूर्व) सीट पर इस बार विधानसभा चुनावों में एक दिलचस्प लड़ाई देखने को मिलेगी जिसमें एक महिला ने अपने पति के खिलाफ निर्दलीय उम्मीदवार के रूप में चुनाव लड़ने का फैसला किया है. स्वरुप चंद गहलोत (55) और उनकी पत्नी मंजुलता गहलोत (52) एक दूसरे को टक्कर देंगे क्योंकि उन्होंने बीकानेर (पूर्व) से निर्दलीय उम्मीदवारों के रूप में नामांकन दाखिल किया है.

स्वरुप ने बताया कि वह 1988 से निर्दलीय उम्मीदवार के रूप में चुनाव लड़ रहे हैं और जब भी वह चुनाव के दौरान प्रचार पर जाते हैं तो उनकी पत्नी घर पर अकेली रहती हैं. घर पर अपनी पत्नी के अकेलेपन के बारे में चिंतित, उन्होंने उनसे नामांकन दाखिल करने के लिए कहा ताकि वे दोनों चुनाव अभियान के दौरान भी साथ रह सकें.

स्वरुप ने बताया कि हमारी शादी को 35 साल हो चुके हैं. मैं 1988 से चुनाव लड़ रहा हूं, हालांकि, जब भी मैं प्रचार के लिए जाता हूं तो मेरी पत्नी घर पर ऊब जाती है क्योंकि हमारी तीन बेटियों की भी शादी हो चुकी है. उन्होंने कहा कि एक दूसरे के साथ समय बिताने के लिए हमने फैसला किया है कि इस साल साथ में चुनाव लड़ेंगे.

राजस्थान में सात दिसंबर को एक चरण में वोट डाले जाएंगे और नतीजे 11 दिसंबर को आएंगे. सूबे में विधानसभा की 200 सीटें हैं.



Back to Top