आप यहाँ है :

मतदान जागरूकता की संभागीय निबंध प्रतियोगिता में दिग्विजय महाविद्यालय की छात्रा यामिनी साहू अव्वल

राजनांदगांव। शासकीय दिग्विजय स्नातकोत्तर स्वशासी महाविद्याल की एम.ए.अंतिम (हिंदी) की प्रतिभाशाली छात्रा कु.यामिनी साहू ने भारत निर्वाचन आयोग के राष्ट्रीय मतदाता जगरूकता कार्यक्रम (स्वीप प्लान ) की संभाग स्तरीय निबंध प्रतियोगिता में प्रथम स्थान अर्जित कर महाविद्यालय और जिले को गौरवान्वित किया है। जिला स्तर पर सर्वश्रेष्ठ प्रस्तुति के उपरान्त यह प्रतिष्ठापूर्ण प्रतियोगिता 30 नवंबर 2017 को कल्याण स्नातकोत्तर महाविद्यालय, भिलाई में सम्पन्न हुई । प्राचार्य डॉ. आर. एन.सिंह, समन्वयक डॉ. शैलेन्द्र सिंह और संयोजक डॉ. चन्द्रकुमार जैन सहित सभी प्राध्यापकों और स्पर्धा समिति के सदस्यों ने यामिनी को बधाई दी है।

उक्त जानकारी देते हुए स्वीप प्लान की रचनात्मक प्रतियोगितााओं के संयोजक और दिग्विजय कालेज के हिंदी विभाग के राष्ट्रपति सम्मानित प्राध्यापक डॉ. चन्द्रकुमार जैन ने बताया कि जिला स्तर पर मतदान के महत्त्व पर एकाग्र निबंध में सर्वश्रेष्ठ अभिव्यक्ति के आधार पर यामिनी का चयन किया गया था। उसे जिला निर्वाचन अधिकारी और स्वीप नोडल अधिकारी जिला प्रशासन की तरफ से दो हजार रु., प्रमाण पत्र और प्रतीक चिन्ह भेंट कर पुरस्कृत भी किया गया। उसके बाद संभाग स्तरीय प्रतियोगिता में कड़े मुकाबले के बीच विजेता यामिनी ने एक बार फिर अपनी योग्यता प्रमाणित कर दिखायी और उसे पहला स्थान हासिल करने पर दुर्ग संभाग के स्वीप नोडल अधिकारी द्वारा तीन हजार रु.का चेक और प्रशस्ति पत्र प्रदान कर पुरस्कृत किया गया । डॉ. जैन ने बताया कि यह पहला अवसर है कि स्वीप प्लान में संभाग स्तर की प्रतियोगिताएं आयोजित की गईं । पहली बार में ही यह सम्मान मिलना महाविद्यालय और जिले के लिए बड़े गौरव की बात है। भिलाई में प्रतियोगिता के दौरान महाविद्यालय की प्राध्यापक डॉ. अनिता शंकर उपस्थित थीं।

विजेता छात्रा यामिनी साहू ने सभी गुरुजनों का आभार मानते हुए कहा कि ख़ास तौर पर प्राध्यापक डॉ. चन्द्रकुमार जैन से मिली सतत प्रेरणा, मार्गदर्शन और प्रोत्साहन से उसका आत्मविश्वास और मनोबल बढ़ता रहा। फलस्वरूप यह सफलता मिली। प्रतिभागियों ने कहा कि डॉ. जैन आरम्भ से ही मतदाता जागरूकता अभियान के स्वरूप, महत्त्व और प्रभाव की जानकारी विद्यार्थियों को प्रत्यक्ष रूप से देते रहे हैं। इस विषय पर वे स्वयं सतत लेखन और सम्बोधन करने के अलावा इसके स्तम्भ लेखक के रूप में भी सुपरिचित हैं। दिग्विजय कालेज में प्राचार्य डॉ.आर.एन.सिंह की प्रेरणा और सहयोग से यह सिलसिला जारी है। हिंदी विभाग की तरफ से विभागाध्यक्ष डॉ. शंकर मुनि राय, डॉ. चंद्रकुमार जैन, डॉ. बी. एन.जागृत, राम आशीष तिवारी, डॉ. नीलम तिवारी, डॉ. स्वाति दुबे और डॉ. गायत्री साहू और स्नातकोत्तर हिंदी परिषद् के पदाधिकारियों ने यामिनी की सराहना करते हुए इस गौरवशाली उपलब्धि के लिए बधाई दी है।



सम्बंधित लेख
 

Back to Top