ताजा सामाचार

आप यहाँ है :

टिक टॉक को टक्कर दे रहा है भारतीय एप मित्रों

टिक टॉक की टक्कर में आँ मित्रों ऐप ने गूगल प्ले स्टोर पर 1 करोड़ डाउनलोड के आंकड़े को पार कर लिया है। दो महीने पहले लॉन्च हुए इस ऐप तो ऐंटी-चाइना सेंटिमेंट्स के जोर पकड़ने के बाद तेजी से पॉप्युलैरिटी मिली। प्ले स्टोर पर यह ऐप 4.5 की रेटिंग के साथ लिस्ट है।

मित्रों ऐप को लेकर बीते दिनों विवाद भी हुआ था। कहा जा रहा था कि इस ऐप के सोर्स कोड को पहले एक पाकिस्तानी डिवेलपर से खरीदा गया है। हालांकि, बाद में ऐप के को-फाउंडर शिवांक अग्रवाल और अनीष खंडेलवाल ने इस ऐप के सोर्स कोड को लेकर लगाई जा रही अटकलों को शांत कराना की कोशिश की। सीईओ शिवांक अग्रवाल ने प्रेस नोट जारी करके एक करोड़ डाउनलोड की जानकारी देने के साथ ही ऐप के लोकल ओरिजिन को भी हाइलाइट किया।

लॉन्च के कुछ समय बाद तक ऐप को लेकर यूजर्स ने काफी शिकायतें कीं। यूजर्स का कहना था कि इस शॉर्ट विडियो मेकिंग प्लैटफॉर्म में कई सारे बग हैं और यह गूगल प्ले स्टोर पर मौजूज टिकटॉक ऐप के क्लोन से ज्यादा कुछ नहीं। नेगेटिव रिव्यू के बाद भी इस ऐप ने लॉन्च के एक महीने बाद 50 लाख यूजर्स के आंकड़े को छू लिया था।

इस ऐप को गूगल के स्पैम और मिनिमम फंक्शनैलिटी पॉलिसी का उल्लंघन करने के लिए प्ले स्टोर से हटाया भी जा चुका है। हालांकि, कुछ समय बाद इसकी फिर से एंट्री हो गई। इसी दौरान कुछ साइबर सिक्यॉरिटी एक्सपर्ट्स ने इस ऐप के खतरे के बारे में बात करते हुए कहा कि इसे आसानी से हैक करके साइबर क्रिमिनल्स दूसरे यूजर्स को मेसेज भेज सकते हैं। इतना ही नहीं अगर चाहें तो इस ऐप की मदद से वह यूजर की जगह दूसरे लोगों को फॉलो या उनके पोस्ट पर कमेंट भी कर सकते हैं।

सभार – नवभारत टाईम्स से

image_pdfimage_print


सम्बंधित लेख
 

Back to Top