आप यहाँ है :

भारत का पहला मुकाबला दक्षिण अफ्रीका से पांच जून को होगा

कोलकाता। अगले वर्ष इंग्लैंड में आयोजित होने वाले वन-डे विश्वकप में भारत अपने अभियान की शुरुआत 5 जून को दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ करेगा। यह फैसला अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट परिषद की कोलकाता में आयोजित बैठक में लिया गया। विश्वकप में भारत और पाकिस्तान की भिड़ंत 16 जून को होगी।

इस विश्वकप में भारत का पहला मैच दो जून को होना था, लेकिन लोढ़ा कमेटी की सिफारिश के बाद इसे पांच जून को रखा गया है। लोढ़ा कमेटी ने सिफारिश की थी कि आईपीएल (इंडियन प्रीमियर लीग) और आईसीसी टूर्नामेंट में भारत के मैच के बीच कम से कम 15 दिनों का अंतर होना चाहिये। बीसीसीआई के एक अधिकारी ने बताया कि अगले वर्ष आईपीएल-12 का आयोजन 29 मार्च से 19 मई के बीच होना है, जबकि वन-डे विश्वकप 30 मई से शुरू होगा। हमें आईपीएल फाइनल और विश्वकप के बीच कम से कम 15 दिनों का अंतर रखना होगा, ताकि खिलाड़ी पूरी तरह फिट रहें।

पिछले कुछ वर्षों से आईसीसी के बड़े टूर्नामेंट में भारत का पहला मुकाबला पाकिस्तान से होता था, इसका कारण भारत और पाकिस्तान के मैच की लोकप्रियता है। वर्ष 2017 में इंग्लैंड में हुई चैम्पियंस ट्रॉफी और वर्ष 2015 में ऑस्ट्रेलिया में हुये विश्वकप में भी भारत का पहला मैच पाकिस्तान से ही था। लेकिन इस बार भारत का पहला मुकाबला दक्षिण अफ्रीका से रखा गया है।

राउंड रॉबिन फॉर्मेट पहले भी अजमाया जा चुका है। इस फॉर्मेट में सभी टीमें एक ही ग्रुप में होती हैं और प्रत्येक टीम का एक दूसरे से एक-एक मैच होता है। इन मैचों में मिली हार और जीत के आधार पर ही अंक तालिका में टीमों की स्थिति तय होती है। अंक तालिका की टॉप-4 टीमें सेमीफाइनल में पहुंचती हैं। अंक तालिका में नंबर एक रहने वाली टीम सेमीफाइनल में चौथे नंबर की टीम से खेलेगी, वहीं दूसरे नंबर की टीम तीसरे स्थान वाली टीम से खेलेगी। सेमीफाइनल की विजेता टीमें फाइनल में भिड़ेंगीं। दस टीमें लेंगी विश्वकप में हिस्सा

इस विश्वकप में कुल दस टीमें शिकरत करेंगी। भारत, ऑस्ट्रेलिया, दक्षिण अफ्रीका, इंग्लैंड, न्यूजीलैंड, पाकिस्तान, श्रीलंका और बांग्लादेश ने सीधे क्वालिफाई किया है, जबकि अफगानिस्तान और वेस्टइंडीज ने विश्वकप क्वालिफायर के जरिये विश्वकप में जगह बनाई है।

वर्ष 2019 में इंग्लैंड और वेल्स में होगा वन-डे विश्वकप का आयोजन।
कुल 11 स्थानों पर खेले जायेंगे विश्वकप के मुकाबले।
वर्ष 1992 का विश्वकप भी खेला गया था राउंड रॉबिन आधार पर।
ऑस्ट्रेलिया ने सबसे ज्यादा पांच बार जीता है वन-डे विश्वकप।
भारत और वेस्टइंडीज दो-दो बार एवं श्रीलंका और पाकिस्तान एक-एक बार बने हैं विजेता।



सम्बंधित लेख
 

Back to Top