ताजा सामाचार

आप यहाँ है :

समुद्र की लहरों पर इठलाता जलेश क्रूज़ आपको एक नई दुनिया का एहसास कराता है

मुंबई: देश-विदेश के पर्यटकों के लिए मुंबई से दीव तक समु्द्री यात्रा का लुत्फ उठाना अब आसान हो गया है. इतिहास में पहली बार सैलानियों के लिए मुंबई से दीव तक जलेश क्रूज सेवा की शुरुआत की गई है.

मिनी गोवा से देश-विदेश में पहचाना जाने वाले सुंदर पर्यटक स्थल दीव के समंदर में मुंबई से दीव 1680 क्षमता वाले पर्यटक जहाज “जलेश” विलासितापूर्ण समुद्री पर्यटन 400 पर्यटकों और क्रु मेंबरों के साथ शुक्रवार सुबह 7 बजे दीव के एतिहासिक किले के किनारे पहुंचा, जहां प्रशासन के आला अफसरों और पर्यटन विभाग ने सभी सैलानियों के माथे पर तिलक, पुष्पगुछ देकर भव्य तरीके से स्वागत किया. सभी सैलानी दीव के पर्यटक स्थल पांच पांडव स्थापित गंगश्वर महादेव, ऐतिहासिक किला, समुद्रीय बीच, सोमनाथ महादेव, 600 साल पुराना चर्च, विदेशी बाज़ार देखकर काफी प्रभावित हुए.

मेसर्स कणिका क्रू द्वारा यह सुविधा उपलब्ध कराई गई है. यह जहाज महीने में तीन बार मुंबई से दीव के लिए सफर करेगा. 8 से 50 हजार रुपए तक के किराए में हर सैलानी को क्रूज में सभी सुखसुविधाएं उपलब्ध कराई जाएंगी. घूमने के शौकीन ऑनलाइन भी टिकट बुक करा सकते हैं.

यह एक अलग ही दुनिया है, जो न जमीन पर बसी है न आकाश में, समुद्री लहरों के साथ इठलाते, भारत के पहले क्रुज़ ‘जलेस’ की रोमांचक यात्रा आपका सामना एक ऐसी मायावी और हैरान कर देने वाली दुनिया से कराती है कि आपको हर पल बस एक नई दुनिया का अनुभव होता है। कभी लगता है आप किसी आधुनिक राजमहल में शाही मेहमान हैं तो कभी लगता है कि आपने किसी विश्व विजेता की तरह समुद्र के विराट वैभव पर कब्जा कर लिया है।

14 मंजिल के इस शानदार क्रुज़ में कदम रखने मात्र से ही आप एक ऐसी काल्पनिक दुनिया में पहुँच जाते हैं जहाँ हर कदम और हर पल आपका सामना एक नए रोमांच से होता है। अनुशासित, कर्मचारी आपकी हर तरह से खातिरदारी करते हैं। उनकी विनम्रता और मेहमाननवाजी की प्रतिबध्दता देखते ही बनती है। पूरा क्रुज़ ग्लैमर की चकाचोंध से लेकर साधन और सुविधाओं का भरा पूरा द्वीप सा लगता है। जहाँ पग-पग पर आपके खाने पीने से लेकर मनोरंजन की हर सुविधा उपलब्ध है। आप ध्यान करना चाहें तो ऐसी एकांत, शांत और निस्तब्ध जगह उपलब्ध है जहाँ बैठकर आप ध्यान की गहराई में उतर सकते हैं। योग करना चाहें तो योग के लिए शानदार जगह है तो आधुनिक जिम की भी सुविधाएँ उपलब्ध है। खाने –पीने के लिए हर तरह की सुविधा है। शाकाहारियों और बगैर लहसुन प्याज का खाना खाने वालों के लिए भी अलग से व्यवस्था है। इसमें कई रेस्तराँ हैं और कहीं भी बैठकर आप समुद्री लहरों की अठखेलियों को देखते हुए अपना मनपसंद खाना खा सकते हैं, अपने परिवारजनों, मित्रों से गपशप कर सकते हैं। 14 मंजिल के इस क्रुज़ पर कई खुले डैक हैं जहाँ बैठकर आप समुद्र के विराट और असीमित वैभव का आनंद ले सकते हैं। अगर चांदनी रात है तो खुले डैक से चन्द्रमा की अनुपम छटा को आप अपने निकट से निहार सकते हैं। चन्द्रमा की किरणें समुद्र में ऐसी दिखाई देती है मानों बीच समुद्र में दूध की लहरों से कोई हाईवे बना है।

स्वीमिंग पुल में आप जी भरकर तैरने का आनंद ले सकते हैं तो बगल में ही डीजे की धुन आपको अपने मन पसंद गीतों और संगीत पर झूमने के लिए भी मजबूर कर देती है।

इस क्रुज की यात्रा के अनुभव को सपनों का संसार बताते हुए एक पर्यटक ने कहा कि दुनिया के अन्य देशों के क्रुज़ में अधिकतर चेहरे विदेशी होते हैं,लेकिन इस क्रुज़ पर अधिकांश भारतीय लोग हैं जिनसे घुलने-मिलने और बात करने से लेकर उनसे गपशप करने में भी आनंद आता है। यहाँ ऐसा लगता है जैसे हम सब एक-दूसरे को जानते हैं और एक ही परिवार के लोग हैं। अगर कोई परिवार के साथ आए तो उसे तो यहाँ अच्छा लगेगा ही और अगर कोई अकेला भी आए तो उसे यहाँ कई परिवार मिल जाएंगे।

जलेश क्रुजेस के अध्यक्ष और सीईओ जर्गन बैलोम ने कहा, “जलेश क्रुजेस भारत को अपना पहला प्रीमियम जहाज़ कर्णिका देने के लिए काफी गर्व महसूस कर रहा है, जो सच्ची भारतीय शैली में आपका मनोरंजन करने के लिए उत्सुक है। यह एक शानदार और सुंदर जहाज़ है जिसे प्रसिद्ध भारतीय आतिथ्य के साथ घरेलू और अंतर्राष्ट्रीय मेहमानों को लुभाने के लिए बनाया गया है। अब भारतीय अपने घर से ज्यादा दूर जाए बिना ही क्रूज वेकेशन्स का आनंद ले सकते हैं।”

यहाँ कई सारे विभिन्न प्रकार के भोजन, मनोरंजन, साहसिक खेल, भरपूर आराम, और बाकी बहुत कुछ इस जहाज़ पर मौजूद है। इसके अलावा विभिन्न पोर्ट्स पर रूककर मेहमानों को अलग-अलग जगहों की सैर भी कराइ जाएगी।

इस जहाज़ पर तीन बढ़िया डाइनिंग रेस्टॉरेंट्स हैं – जिनमें से ‘वाटरफ्रंट ’और ‘शेफ्स टेबल’ में भारतीय भोजन और ‘चॉपस्टिक्स’ में थाई, मलय, कोरियाई, मंगोलियन, ताइवानी और जापानी भोजन उपलब्ध होंगे। इस जहाज़ पर नौ अलग-अलग बुफे और फ़ूड स्टेशन भी हैं, जहां आप स्ट्रीट फूड, बारबेक्यू, अंतरराष्ट्रीय ग्रिल से लेकर पेस्ट्री और फ्रोज़न डेज़र्ट तक कई सारे खाद्य पदार्थों का स्वाद ले सकते हैं। जैन मेहमानों के लिए विशेष भोजन का प्रबंध भी किया गया है।

मेहमानों के लिए पूरे बार मेनू और अंतरराष्ट्रीय प्रीमियम पेय का आनंद लेने के लिए नौ बार हैं।

वरिष्ठ नागरिकों और विकलांगों के लिए क्रूज का मजा सहजता से लेने के उद्देश्य से विशेष सुविधाएं बनाई गई हैं।

‘कर्णिका ’पहला भारतीय जहाज़ है, जिस पर थेराप्यूटिक रिलैक्सेशन सुविधाएं प्रदान की जाती हैं। ऑन-बोर्ड स्पा में रिलैक्सेशन के लिए कई एरोमेटिक और प्राकृतिक तकनीकें हैं। मेहमानों के लिए अत्याधुनिक फिटनेस स्टूडियो और मल्टी-पर्पज सैलून सुविधा भी उपलब्ध हैं।

यहाँ आकर मेहमान हाई-एन्ड रिटेल थेरपी का भी अनुभव कर सकते हैं, कई प्रमुख अंतरराष्ट्रीय ब्रैंड्स यहाँ पर हैं, आप यहाँ ड्यूटी-फ्री उत्पादों की खरीददारी कर सकते हैं।

‘कर्णिका’ में आधुनिक वेन्यू, आधुनिक तकनीकी सहायताएं, 24X7 वाई-फाई सहित सभी सुविधाएं हैं। कॉर्पोरेट पार्टियाँ, ऑफ़-साइट्स और पारिवारिक समारोह मनाना हो, तो रसदार भोजन और अंतरराष्ट्रीय आतिथ्य की पूरी व्यवस्था है।

जलेश क्रुजेस भारत की पहली मल्टी-डेस्टिनेशन क्रूज़ लाइन है, जहाँ मनोरंजन, साहसिक खेल, रसदार भोजन और अंतर्राष्ट्रीय आतिथ्य का पूरा अनुभव किया जा सकता है। यह क्रूज विशेष तौर पर भारतीय मेहमानों के लिए साथ ही साथ भारतीय संस्कृति, भोजन और आतिथ्य का अनुभव करने के लिए भारत आए हुए विदेशी मेहमानों के लिए बनाया गया है।

छोटे बच्चों से लेकर बड़ो तक सभी के लिए ‘कर्णिका’ पर मनोरंजन की व्यवस्था की गई है। इनमें ब्रॉडवे शो, बर्लेस्क परफॉर्मन्सेस, कैसिनो, म्यूज़िक और डांस नाइट्स, फिल्में, एडवेंचर गेम्स और बहुत कुछ शामिल हैं।

जलेस क्रूज़ की वेब साईट पर इसके बारे में विस्तार से जानकारी हासिल कर सकते हैं।

image_pdfimage_print


Leave a Reply
 

Your email address will not be published. Required fields are marked (*)

You may use these HTML tags and attributes: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>

सम्बंधित लेख
 

Back to Top