ताजा सामाचार

आप यहाँ है :

जम्मू कश्मीर जाने वालों के लिए रेल्वे की नई सौगात

इंडियन रेलवे कैटरिंग ऐंड टूरिजम (आईआरसीटीसी) जम्मू-कश्मीर तक जाने के लिए अब सिर्फ रेल टिकट ही बुक नहीं करेगी, बल्कि वह लोकल होटेल समेत घूमने के लिए टैक्सी की बुकिंग भी करेगी। इस सिलसिले में आईआरसीटीसी जल्द ही जम्मू-कश्मीर सरकार के अलावा एक प्राइवेट एयरलाइंस से भी समझौता करने जा रही है।

आईआरसीटीसी के सूत्रों के मुताबिक, राज्य सरकार से बातचीत लगभग हो चुकी है और जल्द ही समझौते पर हस्ताक्षर किए जाएंगे। इसके तहत राज्य में टूरिजम को बढ़ावा देने के लिए आईआरसीटीसी अपनी कवायद करेगी। राज्य के हर हिस्से में बने लगभग 1200 होटल आईआरसीटीसी के रडार पर होंगे।

हेलिकॉप्टर सर्विस पर बात
आईआरसीटीसी के एक सीनियर अधिकारी ने बताया कि कटरा में जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गए थे, उस वक्त वहां 3 हेलिपैड बनाए गए थे। अब आईआरसीटीसी इन संभावनाओं को खंगाल रहा है कि अगर राज्य सरकार अनुमति दे तो आईआरसीटीसी वहां से वैष्णो देवी दरबार के लिए हेलिकॉफ्टर सेवा शुरू करने पर विचार करने को तैयार है। हालांकि अभी इस सिलसिले में कोई ठोस पहल नहीं हुई है।

देश भर में 26 से रेलवे का नया कैंपेन
मोदी सरकार के एक साल पूरा होने पर भारतीय रेलवे ने 26 मई से कैंपेन शुरू करने का फैसला किया है। इस कैंपेन के तहत बिना टिकट ट्रैवल करने वालों के खिलाफ सघन जांच किए जाने के साथ ही सफाई और खानपान पर भी नजर रखी जाएगी।

इसके अलावा लोगों को रेलवे के प्रति जागरुक किए जाने पर भी ध्यान दिया जाएगा ताकि वे ट्रेनों और रेल परिसरों में गंदगी न फैलाएं। रेलवे के सूत्रों का कहना है कि यह कैंपेन 26 मई से 9 जून तक चलेगा। इस अभियान के लिए सभी जोनल रेलवे को निर्देश दिए गए हैं कि इस अवधि में टिकट जांच पर जोर दिया जाए।

रेलवे में एक जून से स्किल इंडिया
भारतीय रेलवे ने यह फैसला भी किया है कि वह अपनी वर्कशॉप और लोको आदि में एक जून से युवाओं को ट्रेनिंग देना शुरू कर देगा। यह ट्रेनिंग 3 हफ्ते से 6 महीने की होगी। इसमें 10वीं तक के स्टूडेंट्स को ट्रेनिंग दी जाएगी। रेलवे की ओर से इस सिलिसले में आदेश जारी कर दिया गया है।

रेलवे के अधिकारियों का कहना है कि इस वक्त रेलवे की देशभर में 42 वर्कशॉप और अलग-अलग राज्यों में लोको व अन्य रेल फैक्टरियां हैं। इस कवायद से युवाओं को अपने घर के पास ही तकनीकी महारत हासिल करने में मदद मिलेगी।

साभार-टाईम्स ऑफ इंडिया से 

image_pdfimage_print


सम्बंधित लेख
 

Back to Top