आप यहाँ है :

ऋचा शर्मा के गानों पर झूमा लॉस एंजेलिस

ला मिरांडा थियेटर ,लॉस एंजेलिस में लक्स इवेंट और साज़ प्रमोशन्स के सौजन्य से, हिंदी सिनेमा की जानी मानी गायिका ऋचा शर्मा का शानदार कार्यक्रम संपन्न हुआ। पूरा हॉल ऋचा शर्मा के चाहने वालों से भरा था। मिनी गुलेरिया जो कि ऑर्गेनाइजर्स में से एक हैं , ने मंच पर आकर शानदार तरीके से लोगों का स्वागत किया और एक विस्तृत परिचय के साथ रचना श्रीवास्तव के छात्रों को मंच पर नृत्य करने के लिए आमंत्रित किया। अवलीन वालिया,मृणाल कुलकर्णी ,अन्वीक्षा श्रीवास्तव ,शुभिता वर्मा,श्रिष्टी काम्बले ने ऋचा शर्मा के गानों पर आधारित एक बहुत ही मोहक नृत्य प्रस्तुत किया,सफ़ेद लंहगे में सजी इन लड़कियों के नृत्य ने दर्शकों की बहुत प्रशंशा पायी। इसके बाद मिनी जी ने पुनः मंच पर आकर अगले कलाकार पारस मान जो कि वॉयस ऑफ़ इंडिया के फाइनलिस्ट भी थे ,जिनको पंजाब का शेर भी कहा जाता है को,मंच पर आमंत्रित किया। इनके गाने “जुगनी सी “को बहुत सराहना मिली। इसके बाद अगले कलाकार जो मंच पर आये उनका नाम था पृथ्वी गन्धर्व जिनका “बाजीराव मस्तानी “में गया गया गीत बहुत प्रसिद्ध हुआ है। इन्होने ये ज़िन्दगी गले लगा ले ,वोह जो अधूरी सी बात बाकी है ,चन्ना मेरेया जैसे गीतों से समाँ बाँध दिया।

????????????????????????????????????

हरदिल अज़ीज़ ऋचा शर्मा के मंच पर आने से पहले उनके गानों का वीडियो दिखाया गया। मंच पर आकर ऋचा शर्मा ने फिल्म ताल वो गाना गाया जिसने उसकी ज़िन्दगी बदल दी “नी मै समझ गयी “। इसके बाद क्रमशः ज़िन्दगी में कभी कोई आये न रब्बा और माही वे के सुर साधे। ऋचा बहुत ही प्रतिभावान गायिका हैं और ये हर प्रकार के गीत गाती है फिर चाहे वो सूफी हो, फ़िल्मी संगीत हो , रजिस्थानी लोकगीत या पंजाबी गीत हो। इन्होने ५० से भी ज्यादा सुपरहिट गाने गए हैं। आपने बहुत से अवार्ड भी जीते हैं। ओटावा जैज़ फेस्टिवल में भाग लेने वाली अकेली सूफी गायिका रही हैं। ऋचा जी ने ‘खुक खुक ‘गा कर पूछा ये कौन सा गाना है ,जब श्रोताओं ने कहा “चोली के पीछे क्या है ?”तो उन्होंने कहा आपको ग़लतफ़हमी है ये एक पंजाबी सूफी गीत है “नी मै यार नू करदी ” इसके बाद ऋचा जी ने गाया काली तेरी गुत ते परांदा तेरा लाला नी इस गाने में ऋचा ने दर्शकों को स्वयं के साथ गाने के लिए आमंत्रित किया और लोगों ने खूब आनन्द ले कर गाया भी। शो के दौरान ही उन्होंने अपने साथ आये सारे साज़िन्दों का परिचय भी कराया

ऋचा ने अगला गाना गाने से पहले कहा कि जब वो खुश होती हैं या दुखी दोनों ही सूरतों में ये ही गाना गाती है फिर उन्होंने गाया मेरे मौला करम हो करम। इसके बाद आज जाने की ज़िद न करो गाना प्रस्तुत किया जिसको पाकिस्तानी कवि फ़य्याज़ हाशमी ने लिखा था। ऋचा जी ने बताया कि पाकिस्तानी गायिका रेशमा जी उनकी प्रेरणा हैं और उन्ही का गाया गीत लम्बी जुदाई सुनाया जिसको लोगों ने बहुत ही सराहा।

अपना नया गाना ” नइयो लगदा दिल मेरा “का वीडियो दिखा कर अपने आधिकारिक चैनल से लोगों का परचित करवाया l

आपने नेशनल और स्थानीय प्रमोटर्स को मंच पर बुला कर उनका धन्यवाद किया। स्थानीय प्रमोटर मोहन सिंह, मिनी गुलेरिया और हरशद मोदी जी की अथक मेहनत के फलस्वरूप ऋचा शर्मा का शो इतना सफल हो सका। ऋचा पिछले दिनों अमेरिका और कनाडा के दौरे पर थीं। ऋचा जी दिवाली हमेशा अपने परिवार के साथ ही मनाती है पर जब लॉस एंजेलिस में कार्यक्रम करने का आमंत्रण मिला तो इन्होने सोचा ये भी तो अपना परिवार ही है, और यहाँ कार्यक्रम करने के लिए राजी हो गयीं। सबकी चहीती इस गायिका ने लोगों की फरमाइश पर “बिल्लो रानी “,और महान सूफी गायक नुसरत फते अली खान जी को याद करते हुए “दमा दम मस्त करंदर ” गा कर अपने शो की समाप्ती की। सभी श्रोताओं ने ऋचा जी के शानदार शो के लिए खड़े होकर तालियाँ बजायीं। सुलेखा, सेठी लॉ और हुडसन एनर्जी इस शो के प्रायोजकों में से एक थे।

Print Friendly, PDF & Email


Leave a Reply
 

Your email address will not be published. Required fields are marked (*)

You may use these HTML tags and attributes: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>

सम्बंधित लेख
 

ईमेल सबस्क्रिप्शन

PHOTOS

VIDEOS

Back to Top