ताजा सामाचार

आप यहाँ है :

जेके चिकित्सालय की सुविधाओं का रियायती दर पर लाभ ले सकेंगे एमसीयू के कर्मचारी

भोपाल। माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रकारिता एवं संचार विश्वविद्यालय ने एलएनसिटी विश्वविद्यालय के साथ स्वास्थ्य विषय को लेकर एमओयू साइन किया है। अब एमसीयू के कर्मचारी-अधिकारी एलएनसिटी विश्वविद्यालय के अंतर्गत संचालित जेके अस्पताल की ओपीडी की सुविधाओं का लाभ सीजीएचएस दर पर ले सकेंगे। बुधवार को एमसीयू के कुलपति प्रो. केजी सुरेश और एलएनसिटी विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. एनके थापक ने एमओयू पर हस्ताक्षर किए। दोनों कुलपतियों ने कहा कि भविष्य में दोनों विश्वविद्यालय अकादमिक क्षेत्र में भी एक-दूसरे का सहयोग करेंगे।

एमसीयू के कुलपति प्रो. केजी सुरेश ने कहा कि कोरोना संक्रमण के दौर में यह ध्यान आया कि लोगों को सहज ही चिकित्सा सुविधाएं उपलब्ध होनी चाहिए। इस बात को ध्यान में रखकर पिछले दिनों में विश्वविद्यालय ने अपने कर्मचारियों, अधिकारियों एवं शिक्षकों को बेहतर चिकित्सा सुविधाएं उपलब्ध कराने के लिए शहर के प्रतिष्ठित चिकित्सालयों के साथ एमओयू साइन किए हैं। इसी क्रम में बुधवार को एलएनसिटी विश्वविद्यालय के अंतर्गत संचालित मेडिकल कॉलेज से संबंद्ध चिकित्सालय जेके हॉस्पिटल की सुविधाएं शासकीय दर पर उपलब्ध कराने के लिए एमओयू साइन किया गया है। कुलपति प्रो. सुरेश ने कहा कि भविष्य में राष्ट्रीय शिक्षा नीति के अनुरूप दोनों विश्वविद्यालयों के बीच अकादमिक सहयोग की दिशा में भी महत्वपूर्ण निर्णय लिए जाएंगे।

इस अवसर पर एलएनसिटी विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. एनके थापक ने कहा कि पत्रकारिता एवं संचार के क्षेत्र में एमसीयू की राष्ट्रीय स्तर पर प्रतिष्ठा है। हमारा प्रयास रहेगा कि राष्ट्रीय शिक्षा नीति के अंतर्गत एक-दूसरे की विशेषज्ञता का लाभ विद्यार्थियों को दिलाया जा सके। एमओयू पर हस्ताक्षर करते समय एमसीयू के कुलसचिव प्रो. अविनाश वाजपेयी, राष्ट्रीय शिक्षा नीति समन्वयक प्रो. सीपी अग्रवाल, प्रो. श्रीकांत सिंह, प्रो. पवित्र श्रीवास्तव, डॉ. आरती सारंग, डॉ. राखी तिवारी, परीक्षा नियंत्रक डॉ. राजेश पाठक सहित अन्य विभागाध्यक्ष और एलएनसिटी विश्वविद्यालय के प्रतिनिधिमंडल की ओर से पत्रकारिता विभाग की अध्यक्ष डॉ. अनु श्रीवास्तव एवं सहायक प्राध्यापक सुश्री आकांक्षा माहेश्वरी उपस्थिति रहीं।

कुलसचिव

(डॉ. अविनाश वाजपेयी)

image_pdfimage_print


सम्बंधित लेख
 

Back to Top