ताजा सामाचार

आप यहाँ है :

मोदी जी के आने से हमें एक नई पहचान मिली

मोदीजी की अमेरिका यात्रा को समाप्त हुए बहुत दिन हो गए परन्तु अभी भी लोग उनके मोहक भाषण और चमत्कारी व्यक्तित्व के जादू से उबर नहीं पाएं है। लोगों की प्रतिक्रिया अभी भी मुझको मिल रही है। जो मैं आप लोगों तक पहुँचा रही हूँ l मोदीजी की अमेरिका यात्रा को समाप्त हुए बहुत दिन हो गए परन्तु अभी भी लोग उनके मोहक भाषण और चमत्कारी व्यक्तित्व के जादू से उबर नहीं पाएं है। लोगों की प्रतिक्रिया अभी भी मुझको मिल रही है। जो मैं आप लोगों तक पहुँचा रही हूँ आईये इसी श्रृंखला के अन्तर्गत जानते हैं श्री महेश पटेल जी के विचार l महेश पटेल जो ह्यूस्टन में केमिकल इंजिनियर हैं ने अपनी भावनाओं को इस तरह व्यक्त किया l

मोदी जी की यात्रा को लेकर आपने कैसा अनुभव किया?

यह एक ग्रैंड स्लैम था | आडिटोरियम खचाखच भरा था | पहली बात तो मैं यह कहना चाहूंगा कि आयोजकों ने उत्कृष्ट काम किया | मोदी जी का भाषण शानदार था | इतनी पारदर्शिता थी उनके भाषण में कि आरम्भ से अंत तक जनता उनकी सराहना में तालियां बजाती रही, मोदी मोदी की जयकार गूंजती रही और भारत के झंडे लहराते रहे | इस उत्कृष्ट आयोजन की प्रशंसा के लिए मेरे पास शब्द नहीं है | आयोजकों और सारे वालंटियर्स ने जो दिन रात मेहनत की और इस आयोजन को सफल बनाने में कोई कसर नहीं छोड़ी उसके लिए वे बधाई के पात्र हैं | इसके जैसा कोई कार्यक्रम मैंने ह्यूस्टन में नहीं देखा , इससे पहले | मुझे ख़ुशी है कि मैं ह्यूस्टन में रहता हूँ और मैं व्यक्तिगत रूप में इस कार्यक्रम को देखने आया |

इस से भारत और अमेरिका के रिश्ते में क्या अंतर आया ?

मोदी जी और अमेरिका के राष्ट्रपति ने इस मंच से सुरक्षा , अंतरिक्ष कार्यक्रम और ऊर्जा क्षेत्र में दोनों देशों के बीच संयुक्त भागीदारी बढ़ाने की घोषणा की जो बहुत ही महत्वपूर्ण है | राष्ट्रपति ट्रम्प ने भारत में हुए विकास कार्यों के लिए मोदी जी की खुल कर सराहना की और अपने को भारत का सबसे अच्छा मित्र घोषित किया | इस कार्यक्रम से दोनों देशों के बीच सम्बन्ध मजबूत हुए हैं |

रचना श्रीवास्तव अमरीका में रहती हैं और वहाँ भारतीयों से जुड़े कार्यक्रमों, आयोजनों व समारोहों के बारे में नियमित रूप से लिखती हैं।

image_pdfimage_print


सम्बंधित लेख
 

Back to Top