आप यहाँ है :

पश्चिम रेलवे के गहन टिकट जॉंच अभियानों में 1 करोड़ से अधिक का ज़ुर्माना वसूल

मुंबई। पश्चिम रेलवे के मुंबई मंडल द्वारा ट्रेनों में यात्रा करने वाले अनधिकृत यात्रियों की जाॅंच करने और उन्हें रोकने के लिए विभिन्न अभियान चलाये गये। इस तरह के कड़े जाँच अभियान चलाकर उपनगरीय और गैर- उपनगरीय खंडों में 25,900 से अधिक ऐसे मामलों का पता लगाया गया, और 1.04 करोड़ रु. की वसूली की गई।

पश्चिम रेलवे के मुख्य जनसम्पर्क अधिकारी श्री सुमित ठाकुर द्वारा जारी एक प्रेस विज्ञप्ति के अनुसार, यह सुनिश्चित करने के लिए कि कोई भी अनधिकृत यात्री ट्रेनों में यात्रा नहीं कर पाये, पश्चिम रेलवे के मुंबई डिवीजन द्वारा नियमित, फोर्ट्रेस, गहन और अधिकारी विशेष टिकट चेकिंग ड्राइव का आयोजन समय-समय पर किया जाता है। ये विशेष जाॅंच मई, 2020 से 26 नवम्बर, 2020 तक वरिष्ठ अधिकारियों और टिकट चेकिंग कर्मचारियों की टीम द्वारा की गईं, जिनमें कुल 25,982 मामलों का पता लगाया गया और ज़ुर्माने के रूप में 1.04 करोड़ रु. की वसूली की गई। इन 25,982 मामलों में से 19,172 मामले उपनगरीय खंड में पाए गए, जिनमें जुर्माने के रूप में 55 लाख रु. वसूले गए और गैर-उपनगरीय खंड में पकड़े गये 6810 मामलों में 49 लाख रु. का ज़ुर्माना वसूल किया गया।

श्री ठाकुर ने बताया कि इन 25,982 मामलों में रेगुलर टिकट चेकिंग ड्राइव में 24,710 मामले और गहन, फोर्ट्रेस और विशेष टिकट चेकिंग ड्राइव में 1,272 मामले पकड़े गए। उल्लेखनीय है कि पश्चिम रेलवे वर्तमान में महाराष्ट्र सरकार द्वारा अधिसूचित आवश्यक सेवाओं के कर्मचारियों के लिए 1201 विशेष उपनगरीय सेवाऍं चला रही है, जिनमें गैर-पीक घंटों की निर्धारित अवधि के दौरान महिला यात्रियों को भी यात्रा की अनुमति दी गई है। पश्चिम रेलवे ने फर्जी आईडी कार्ड धारकों के कई मामलों का भी पता लगाया है, जो अवैध रूप से विशेष उपनगरीय सेवाओं में यात्रा कर रहे थे।

पश्चिम रेलवे द्वारा आम जनता से अपील की गई है कि राज्य सरकार द्वारा चिन्हित और रेल मंत्रालय द्वारा अनुमोदित श्रेणियों को छोड़कर, अन्य कोई यात्री उपनगरीय स्टेशनों पर न जायें। साथ ही, यात्रियों की सभी अनुमत श्रेणियों को उचित यात्रा टिकटों के साथ यात्रा करने, हमेशा मास्क पहनने और यात्रा के लिए वैध पहचान पत्र साथ रखने की अपील की गई है। यह भी अनुरोध किया गया है कि यात्रियों द्वारा COVID-19 के लिए अनिवार्य और उचित चिकित्सा एवं सामाजिक प्रोटोकॉल का हमेशा पालन किया जाये।

image_pdfimage_print


सम्बंधित लेख
 

Back to Top