आप यहाँ है :

मातृभाषा ने आयोजित किया ऑनलाइन कविसम्मेलन

इन्दौर। देशव्यापी फैली हुई महामारी कोरोना के कारण पूरा देश लॉक डाउन से बंधा हुआ है, ऐसे में सृजन को घर बैठे जारी रखने के उद्देश्य से मातृभाषा.कॉम द्वारा रविवार 12 अप्रैल 2020 को ऑनलाइन कवि सम्मेलन आयोजित किया गया, जिसका संयोजन संस्था की संयोजिका भावना शर्मा ने किया।

इस कवि सम्मेलन में देशभर के करीब 18 कवि-कवयित्रियों ने भाग लिया जिनमें श्रीमती स्नेहलता रुड़की (उत्तराखंड) से, गाज़ियाबाद से मंजू बिष्ट , बांसवाडा से शास्त्री दीपक जैन ‘ध्रुव’ जी, डॉ मनिला कुमारी, भवानीमंडी से डॉ राजेश कुमार शर्मा, राजनांदगांव से अमिता दुबे, रायपुर से सीमा निगम, इंदौर से डॉ गरिमा मिश्र तोष, बालाघाट से नवनीता कटकवार, भोपाल से ओरिना अदा, भागलपुर से सुमन सोनी, बिलासपुर से रश्मिलता मिश्रा, ग़ाज़ियाबाद से नीरजा मेहता, दिल्ली से आस्था जैन, इंदौर से डॉ. वासिफ़ क़ाज़ी, मेरठ से सीमा गर्ग, सुन्हेल से आशारानी जैन एवं अहमदाबाद से डॉ. शैलजा एन भट्टड़ सम्मिलित हुए।

इन सभी रचनाकारों ने अपनी प्रतिनिधि रचनाओं के वीडियो व्हाट्सएप्प समूह में नियत क्रम में प्रेषित किए। हिन्दी प्रचार के लिए प्रतिबद्धता से कार्यरत मातृभाषा उन्नयन संस्थान द्वारा सभी प्रतिभागियों को प्रमाणपत्र प्रेषित किया गया। कवि सम्मेलन को समूह के साथियों द्वारा लॉक डाउन का सदुपयोग बताते हुए सराहा गया एवं सभी श्रोताओं द्वारा कवियों को बधाई एवं शुभकामनाएँ प्रेषित की गईं।

image_pdfimage_print


सम्बंधित लेख
 

Back to Top