आप यहाँ है :

श्री सुरेश प्रभु ने भूखे बच्चों की पुकार सुनी, गाड़ी में खाना भिजवाया

सोमवार को हरिद्वार से हावड़ा जा रही कुंभा एक्सप्रेस मौसम की मार की वजह से आठ घंटे से अधिक देरी से चल रही थी। ट्रेन में एसीएन स्कूल, देहरादून के नौ बच्चे सफर कर रहे थे। ट्रेन में पैंट्री कार की सेवा न होने से बच्चे भूखे थे। बच्चों ने इस समस्या से अभिभावकों को अवगत कराया। अभिभावकों ने ट्वीट के जरिये रेल मंत्री सुरेश प्रभु को सूचित किया।

रेल मंत्री ने यह संदेश रेलवे बोर्ड को दिया और बच्चों को स्टेशन पर भोजन व पानी की व्यवस्था किए जाने की निर्देश जारी किया। बोर्ड की ओर से तत्काल चीफ एरिया मैनेजर रवि प्रकाश चतुर्वेदी को संदेश आया। ट्रेन जैसे ही रात 9.50 बजे वाराणसी कैंट स्टेशन पहुंची वैसे ही रेलवे के मुख्य खानपान निरीक्षक एसके पांडेय ने बोगी में मौजूद सभी भूखे बच्चों को रेलवे की ओर से भोजन और पानी की व्यवस्था कराई।
वाराणसी कैंट स्टेशन पर बच्चों को पूड़ी, सब्जी, दाल, चावल, पानी और कॉफी दी गई।

image_pdfimage_print


सम्बंधित लेख
 

Back to Top