आप यहाँ है :

मृणाल पांडे नेशनल हेराल्ड समूह से

वरिष्ठ पत्रकार मृणाल पांडे को ‘द एसोसिएटेड जर्नल्स लिमिटेड’ समूह का वरिष्ठ संपादकीय सलाहकार नियुक्त किया गया है। नेशनल हेराल्ड ग्रुप के एडिटर-इन-चीफ नीलाभ मिश्रा के निधन के बाद मृणाल पांडे को ये जिम्मेेदारी दी गई है। वरिष्ठ पत्रकार ज़फ़र आग़ा को ‘द एसोसिएटेड जर्नल्स लिमिटेड’ के प्रकाशनों और डिडिटल प्रॉपर्टीज के ग्रुप एडिटर-इन-चीफ की जिम्मेदारी दी गई है। अभी तक वे समूह के उर्दू प्रकाशन ‘कौमी आवाज’ के ही एडिटर-इन-चीफ थे।

मृणाल पांडे साप्ताहिक हिन्दुस्तान और फिर बाद में हिन्दुस्तान टाइम्स समूह के हिंदी प्रकाशनों (दैनिक हिन्दुस्तान, कादम्बिनी मासिक पत्रिका और बच्चों की पत्रिका नंदन) की समूह संपादक रही हैं। वे ‘वामा’ पत्रिका की भी संपादक रहीं और उन्होंने एनडीटीवी और दूरदर्शन में वरिष्ठ संपादकीय सलाहकार के तौर पर सेवाएं दी हैं। मृणाल पांडे बहुभाषीय राष्ट्रीय दैनिक समाचार पत्र की पहली भारतीय महिला एडिटर-इन-चीफ रह चुकी हैं। इसके अलावा मृणाल पांडे प्रसार भारती की चेयरपर्सन के पद पर भी काम कर चुकी हैं।

मृणाल पांडे भारतीय महिला प्रेस कोर की संस्थापक अध्यक्ष हैं। वे हिंदी और अंग्रेजी समाचार पत्रों में निरंतर विविध विषयों पर लेख लिखती हैं। उनके लेखन में उपन्यास, लघु कथाएं और निबंध भी शामिल हैं। वे कई समाचार पत्रों में नियमित स्तंभ लिखती रही हैं। उनके द्वारा रचित कई पुस्तकें हिंदी और अंग्रेजी में प्रकाशित हुई हैं। एक पत्रकार के तौर पर उनके योगदान के लिए उन्हें पद्मश्री भी मिल चुका है। साथ ही उन्हें मुंबई प्रेस क्लब के रेड इंक अवार्ड से भी सम्मानित किया गया है।

वहीं ज़फ़र आग़ा इससे पहले समूह के उर्दू प्रकाशन कौमी आवाज के एडिटर-इन-चीफ थे। ज़फ़र आग़ा वरिष्ठ पत्रकार और स्तंभकार हैं। देश की पहली समाचार पत्रिका से 1980 में अपना करियर शुरू करने वाले ज़फ़र आग़ा पत्रकारिता के क्षेत्र में करीब तीन दशक से सक्रिय हैं और इस दौरान उन्होंने विभिन्न समाचार पत्रों, पत्रिकाओं और न्यूज चैनलों में काम किया। उन्होंने बिजनेस एंड पॉलिटिकल ऑब्जर्वर, इंडिया टुडे और पेट्रियट में लंबे समय तक काम किया। वे लगातार भारतीय और विदेशी समाचार पत्रों के लिए स्तंभ लिखते रहे हैं। उन्होंने ईटीवी उर्दू के लिए गुफ्तुगू नाम से कार्यक्रम किया, जो बेहद लोकप्रिय रहा।

द एसोसिएटेड जर्नल्स लिमिटेड की स्थापना पंडित जवाहर लाल नेहरू ने 1937 में की थी। द एसोसिएटेड जर्नल्स लिमिटेड नेशनल हेराल्ड (अंग्रेजी), कौमी आवाज़ (उर्दू) और नवजीव (हिंदी) का प्रकाशन करता है। कंपनी ने नेशनल हेरल्ड का प्रकाशन 1938 में, कौमी आवाज का 1945 में और नवजीव का प्रकाशन 1947 में शुरू किया था। फिलहाल कंपनी नेशनल हेराल्ड का साप्ताहिक का प्रकाशन करती है और अंग्रेजी वेबसाइट www.nationalheraldindia.com, हिंदी वेबसाइट www.navjivanindia.com और उर्दू वेबसाइट www.qaumiawaz.com का संचालन करती है।

image_pdfimage_print


Get in Touch

Back to Top