आप यहाँ है :

मुंबई की झमाझम बारिश के बीच कजरी की धुनों पर १७ दिनों तक थिरकेंगे मुंबईवासी

मिर्जापुर की कजरी गायिका मधु पांडेय और मुंबई के सदाबहार गायक सुरेश शुक्ला सावन की झमाझम बारिश में मुंबई के लोकगीत रसिको को 30 जुलाई से लोकसंस्कृति की फुहार से तृप्त करेंगे. 15 अगस्त तक चलनेवाले कजरी महोत्सव में “पिया मेहँदी लिया दा, मोतीझील से,जाईके साईकिल से ना” , “दरद होय पिया हमरी कलाई में, रोटी के पोवाई में ना” , “हमके सावन में झूलनी गढ़ाई दा पिया, जिया बहलाय दा पिया ना” जैसे लुभावने गीतों से जनसमुदाय सराबोर होगा।गायिका मधु पांडेय मुंबई को गुलजार करने शुक्रवार 29 जुलाई को मुंबई पहुँच रही हैं. मुंबई और उसके आसपास बडी संख्या में रहनेवाले पूर्वी उत्तरप्रदेश के लोगों के बीच सावन की मस्ती भरे मौसम में कजरी गीतों की वर्षां कर मधु पांडेय लोगों को उनके गांव – जवांर, खेत खलिहान – अमराई, पंगडंडी और चखरोट की सोंधि महक की सुधि दिलाएंगी. मुंबई के लोगों में प्रसिद्ध कजरी ‘मिर्जापुर कइल’ गुलजार हो, कचौडी गली सुन कईल्या बलमू’ बहुत ही लोकप्रिय हैं.

इस सावन महीने में मुंबई और उसके आसपास कई जगहों पर बरसेगी कजरी की फुहार. सामाजिक – सांस्कृतिक संस्था ‘अभियान’ द्वारा मनांए जा रहे कजरी महोत्सव का यह 12 वां वर्ष हैं.

मुम्बई बीजेपी के महामंत्री व अभियान संस्था के संस्थापक अमरजीत मिश्र ने बताया गया कि बोरीवली से शुरू होनेवाली कजरी विलेपार्ले, मालाड, मुलुंड, ठाणे, कांदिवली, घाटकोपर, वडाला, चर्नीरोड, दादर,डोम्बिवली,दिवा रोड से होता वसई रोड तक जाएगी. उल्लेखनीय हैं कि अब तक इस कार्यक्रम में सुप्रसिद्ध गायिका उर्मिला श्रीवास्तव और अजिता श्रीवास्तव अपने गीत प्रस्तुत करती आ रही हैं. चौथी बार मुंबई में अपनी गायिकी का जलवा बिखरने जा रही श्रीमती मधु पांडेय के पास कजरी, सोहर, चैंता समेत लोकगीतों का जबर्दस्त कलेक्शन हैं.

श्री मिश्र ने बताया कि इस शहर में पुरुषों के लिए दंगल व होली जैसे अनेकों कार्यक्रम होते हैं ,लेकिन महिलाओं के लिए अभियान पिछले 12 वर्षों से कजरी के कार्यक्रमों की लम्बी शृंखला करती है। कजरी महोत्सव के कुछ खास कार्यक्रमों में महिलाओं के लिए मेहंदी – महावर लगाने, चूडी पहनाने और मायके की याद दिलाने के उद्देश्य से झूले भी डाले जाते हैं उल्लेखनीय कि अभियान पिछले अट्ठाईस वर्षों से २४ जनवरी को मुंबई में उत्तरप्रदेश दिवस का आयोजन करता आ रहा हैं.

अभियान के इस आयोजन में अब तक पार्श्वगायक उदित नारायण, रविंद्र जैंन, अनुप जलोटा, पद्मश्री शारदा सिन्हा,बालेश्वर, मनोज तिवारी मृदुल, उर्मिला श्रीवास्तव, मालिनी अवस्थी, विनय विहारी,पवन सिंह, अभिनेता रवि किसन समेत कई उभरते हुए गायक शामिल हो चुके हैं.

image_pdfimage_print


सम्बंधित लेख
 

Back to Top