आप यहाँ है :

नीफा द्वारा राष्ट्रीय कला सम्मान समारोह का आयोजन

नई दिल्ली। हाल ही में नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ फाइन आर्ट्स ‘नीफा’ द्वारा भव्य राष्ट्रीय कला सम्मान समारोह का आयोजन किया गया, जिसमें मुख्य अतिथि के रूप में राजा मान सिंह तोमर के कुलपति श्री लवली शर्मा उपस्थित रहे, एवं इस समारोह की अध्यक्षता एल.एन भवसार द्वारा की गई। कार्यक्रम में नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ फाइन आर्ट्स की निदेशिका श्रीमती रेनू खेरा ने भी अपनी उपस्थिति दर्ज करायी।

इस भव्य कार्यक्रम में नीफा द्वारा ज्येष्ठ कलाकारों, कला संग्रहालय अध्यक्ष, कला क्रिटिक एवं अन्य कलाकारों को विभिन्न श्रेणी में सम्मानित किया गया। इस राष्ट्रीय कला एवं सम्मान समारोह में प्रथम श्रेणी में सुप्रसिद्ध पद्मभूषण मूर्तिकार श्री राम वी सुथार जी, डॉ लवली शर्मा (कुलपति, राजा मान सिंह तोमर विश्विद्यालय), डॉ नौशाद कासमी (अध्यक्ष, जामीया मिलीया इस्लामिया विश्विविद्यालय), श्री बिमन बिहारी (पद्मश्री मूर्तिकार) को राजा मान सिंह तोमर राष्ट्रीय कला पुरस्कार से सम्मानित किया गया।

द्वितीय श्रेणी में डा. अश्विनी दीक्षित (प्राअध्यापक, माधव कॉलेज, ग्वालियर), सीमे मुर्तजा (विभागाध्यक्ष, ललित कला शिक्षा संकाय, जामीया मिलीया इस्लामिया विश्वविद्यालय), माधुरी भादुरी को अमृता शेरगिल राष्ट्रीय कला पुरस्कार, तृतीय श्रेणी में प्रोफेसर डॉ अमरगीत चंदोक (विभागाध्यक्ष, कॉलेज ऑफ आर्ट, दिल्ली), श्री नवल किशोर (समकालीन चित्रकार), श्री अजय कुमार गुप्ता (प्रोफेसर, बुन्देलखण्ड विश्वविद्यालय) को नीफा राष्ट्रीय कला पुरस्कार से सम्मानित किया गया। वहीं चौथी श्रेणी में नीफा राष्ट्रीय युवा कला पुरस्कार बी.एफ.ए एवं एम.एफ.ए के भूतपूर्व छात्र छात्राओं को दिया गया, जो कि निरंतर रूप से कला के क्षेत्र में विभिन्न अंतराष्ट्रीय तथा राष्ट्रीय स्तर पर अपनी कला प्रदर्शनी का आयोजन करते आ रहे हैं। इनमें कुछ कला शिक्षक को भी सम्मानित किया गया जिनका कला शिक्षा के क्षेत्र मे महत्वपूर्ण योगदान रहा है।


श्रीमति रेनू खेरा जो कि नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ फाइन आर्ट्स की प्रधानाचार्य भी है के द्वारा उनके इंस्टीट्यूट के भूतपूर्व छात्र छात्राओं जो कि कला के क्षेत्र में महत्वपूर्ण योगदान दे रहे है उन्हें “स्टार आल्मनी ऑफ नीफा पुरस्कार से सम्मानित किया गया, जिनमे; मीनिषा भारद्वाज, रमाकांत खंडेलवाल, विनीता कोलासो, उषा राणा, ललिता यादव आदि शामिल रहे।

इसके पश्चात राजा मान सिंह तोमर संगीत एवं कला महाविद्यालय की कुलपति द्वारा श्रीमती रेणु खेरा के कला क्षेत्र में किये गये योगदान तथा युवा कलाकारों को प्रोत्साहित करने के लिए उनके कदम को सराहा गया एवम् उनका आभार व्यक्त किया गया।



सम्बंधित लेख
 

Back to Top